ब्रेकिंग न्यूज़

डीबीटी के जरिए आम लोगों के खाते में सीधे ट्रांसफर हुए साढ़े सात लाख करोड़ रुपये

डीबीटी के जरिए आम लोगों के खाते में सीधे ट्रांसफर हुए साढ़े सात लाख करोड़ रुपये

मजबूत इरादा, सशक्त रोडमैप और पारदर्शी शासन व्यवस्था हो तो नामुमकिन भी मुमकिन हो जाता है। प्रधानमंत्री जन धन योजना के तहत खुले खातों में जमा राशि एक लाख करोड़ रुपये के रिकॉर्ड को पार कर गई है तो अब मोदी सरकार की एक और अहम योजना डायरेक्ट बेनिफिट ट्रांसफ़र यानी डीबीटी ने भी नया कीर्तिमान स्थापित किया है। शासन तंत्र से बिचौलियों को बाहर करने के मकसद से शुरू किए गए डीबीटी योजना के जरिए सीधे आम जनता को भेजी गई राशि भी साढ़े सात लाख करोड़ रुपये से ज़्यादा हो गई है.

सब्सिडी का पैसा सीधे आम जनता के बैंक खाते में ट्रांसफर करने की कोशिशों का जोरदार असर दिख रहा है। मोदी सरकार ने डीबीटी स्कीम यानी डायरेक्ट बेनिफिट ट्रांसफर के जरिए साल 2014 से अबतक साढ़े सात लाख करोड़ रुपए से ज्यादा की राशि आम लोगों के खातों में भेजी है। डीबीटी मिशन के सरकारी पोर्टल के मुताबिक और ताज़ा आंकड़ों के लिहाज़ से अबतक 7,58,276 करोड़ रुपए डीबीटी के जरिए लोगों के बैंक खातों में डाले गए है।

डीबीटी को लेकर आए इस साल के आंकड़ें भी सरकार का उत्साह बढ़ाने वाले हैं। अकेले इस साल यानी वित्तीय वर्ष 2019-20 के पहले तीन महीनों में ही अबतक पचपन हज़ार करोड़ रुपए आम लोगों के खातों में पहुंची है। इतना ही नहीं इन पेमेंट्स के लिए 42 करोड़ से ज्यादा ट्रांजेक्शन भी हुए हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.