ब्रेकिंग न्यूज़

वायुपुत्र का ‘अभिनंदन’

वायुपुत्र का ‘अभिनंदन’

पाकिस्तानी वायु सेना का एफ-16 मार गिराने के बाद भारतीय मिग-21 के क्रैश होने के बाद विमान पड़ोसी देश की सीमा के अंदर जा गिरा। लेकिन इस विमान के पायलट विंग कमांडर अभिनंदन वर्धमान को पाकिस्तानी सेना ने अपने कब्जे में ले लिया था। फिलहाल विंग कमांडर अभिनंदन सकुशल हैं और देश वापस आ गये हैं। विंग कमांडर अभिनंदन वर्धमान के बारे में पाकिस्तान ने सोशल मीडिया के जरिये जानकारी दी, लेकिन आधिकारिक तौर पर भारत सरकार को नहीं बताया था। हालांकि भारत सरकार ने पाकिस्तान के उच्चायुक्त को बुलाकर अपनी आपत्ति जताई और कहा कि उन्हें सकुशल वापस देश को सौंपे।

कौन हैं जांबाज अभिनंदन

अभिनंदन वर्धमान भारतीय वायुसेना के विंग कमांडर हैं और उन्होंने अपने मिग-21 लड़ाकू विमान से पाकिस्तान के एफ-16 को मार गिराया था। खबरों की माने तो विंग कमांडर जो मिग 21 बायसन उड़ा रहे थे, उनके साथ सात अन्य विमान भी थे, उन्होंने भारतीय सैन्य प्रतिष्ठानों को निशाना बनाने आए 24 पाकिस्तानी विमानों को चुनौती दी।

विंग कमांडर पाकिस्तानी एफ-16 विमान के साथ उलझे हुए थे, जिसपर उन्होंने हवा से हवा में मार करने वाली क्र-73 मिसाइल दागी। स्टेट ऑफ द आर्ट पाकिस्तानी विमान, जिसमें माना जा रहा है दो पायलट थे, को मार गिराया। दोनों ही पायलटों को नियंत्रण रेखा के उस तरफ पैराशूट से उतरते देखा गया।

हवा में लड़ाई के दौरान उनका मिग विमान भी पाकिस्तानी एफ-16 से छोड़ी गई AMRAAM मिसाइल की चपेट में आकर क्षतिग्रस्त हो गया।  इसके चलते विंग कमांडर को विमान से निकलने को मजबूर होना पड़ा और इजेक्ट करने के बाद वो पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर में उतरे, जहां उन्हें बंदी बना लिया गया।

अभिनंदन मूल रूप से कांचीपुरम से 15 किमी दूर तिरुपानामूर के रहने वाले हैं। उनकी शिक्षा दिल्ली से हुयी है। उनकी पत्नी तन्वी मारवाह भी भारतीय वायुसेना में थी और और वह स्क्वाड्रन लीडर के पद पर रह चुकी हैं। एयर फोर्स में ये पद अफसर रैंक का होता है।  पति-पत्नी दोनों एयर फोर्स में रहकर देश की सेवा कर रहे थे। रिटायरमेंट के बाद भी तन्वी मारवाह का नाम एयर फोर्स में सम्मान के साथ लिया जाता है। तन्वी और अभिनंदन की 20 जनवरी को शादी की सालगिरह थी।  अभिनंदन की मूछों के कारण उन्हें उनके साथी वीरप्पन के नाम से पुकारते हैं। अभिनंदन एक अच्छे वक्ता भी माने जाते हैं। उनको मिग 21 उड़ाने में महारत हासिल है। उनके पिता भी भारतीय वायुसेना में अफसर थे और अब रिटायर हो चुके हैं। वह एयर मार्शल के पद से रिटायर हुए हैं। तन्वी और अभिनंदन का एक बेटा भी है जिसका नाम तविश है। जानकारी के मुताबिक मणिरत्नम की फिल्म कातरू वेलियिदई में उनके पिता सलाहकार भी रह चुके हैं। पाकिस्तान की तरफ से जो वीडियो जारी किया गया था उसमें वह दिलेरी से पाकिस्तान सेना के सवालों के जवाब देते दिखाई दिए थे जो उनकी रगों में दौड़ती देशभक्ति का साफ नमूना है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.