ब्रेकिंग न्यूज़ 

जीत की गूंज शुरु

जीत की गूंज शुरु

बीते महीने से अब तक भारत की कई मैदानों पर जीतों से उसकी गंूज पूरे विश्व में गूंज रही है। लगातार विजय प्राप्त होने से ऐसा प्रतीत होने लगा है कि खेलों की चमकती दुनिया में भारत भी दूसरे खेल प्रसिद्ध देशों से आगे निकलने की कोशिश में लगा हुआ है तथा अपनी जीत के साथ सफलताओं के  शिखर को चूम रहा है और खेल जगत में फतह हासिल कर रहा है। आईये यहां देखते हैं पिछले महीने से अब तक भारत की जीतों की एक झलक।

भारत ने ईरान को हराया (22 अक्टूबर)

पिछ़ले महीने 22 अक्टूबर को सबसे पहला तोहफा भारतीय कबड्डी खिलाडिय़ों ने ईरान को 38-29 से शिकस्त दे एशियन कबड्डी चैंपियनशिप 2016 में जीत हासिल कर दिया। भारत ने ईरान को हराकर तीसरी बार इस कबड्डी वल्र्ड कप को जीता। शुरुआत में ईरान काफी आगे निकल गया था लेकिन भारत ने तेजी से वापसी की फिर ईरान भारत की बढ़त को रोक ही नहीं सका तथा अंत में भारत मंजिल हासिल करके रहा। अजय ठाकुर इस खेल के  हीरो रहे, उन्होंने फाइनल में 12 अंक जुटाए जिसके बदौलत भारत ईरान को 38-29 से मात दे सका। इस पुरे टूर्नामेंट में ठाकुर ने 64 अंक जुटाए जबकि बांग्लादेश के कप्तान मोहम्मद अरुदुजान मुंशी ने (52)और इंग्लैंड के टोपो ने (51) जुटाए। भारत को अपने पहले मैच में कोरिया से 32-34 पर हार मिली थी जिसमें अजय ठाकुर कुल दो रेड अंक हासिल कर पाए थे। लेकिन आखिरी मैच में ठाकुर ने अपने अच्छे प्रर्दशन से भारतीय टीम को जीत दिलायी।

55133072 copy

भारत ने न्यूजीलैंड को हराया (29 अक्टूबर)   

भारत और न्यूजीलैंड के बीच खेले गऐ एकदिवसीय मैचों की सीरीज में भारत 5 में से 3 मैच जीत गया। आखिरी पांचवें वनडे की शुरुआत भारत के टॉस जीतने से हुई। जिसमें भारत बैटिंग करने के लिए उतरा, हालांकि शुरुआत कुछ अच्छी नहीं थी। रोहित शर्मा और विराट ने 79 रन की पार्टनरशिप की। शर्मा के आउट होने के बाद धोनी और विराट ने 71 रन की पार्टनरशिप की। भारत की ओर से रोहित ने 70, विराट ने 65, धोनी ने 41 और जाधव ने 37 रन की पारी खेली। न्यूजीलैंड ने भी भारत के पहले के मैचों में भारत को बराबरी की टक्कर दी थी। लेकिन आखिरी मैच में न्यूजीलैंड को हार नसीब हुई। न्यूजीलैंड की शुरुआत भी काफी खराब रही थी चौथी बॉल पर गुप्टिल के आउट होने के बाद विकट गिरने का सिलसिला फिर तो आखिरी तक जारी रहा।

CHAMPIONS_TROPHY_3063167g copy

भारत ने पाकिस्तान को हराया (3० अक्टूबर)

दिवाली के खुशियों भरे त्यौहार पर भारतीय हॉकी टीम ने पाकिस्तान को 3-2 से हराकर त्यौहार की खुशियों में चार चांद लगा दिए। इस दिवाली हॉकी खेल को चाहने वालो के लिए यह सबसे बड़े तोहफे के  रुप में साबित हुआ। मलेंशिया के कुआंटन में खेले गए फाइनल हॉकी मैच में रुपिंदर पाल सिंह ने 18वें मिनट पर पहला गोल दागा, 23वें मिनट पर दूसरा गोल अफान यूसुफ ने, तीसरा गोल निकिन थम्मैया ने किया। दूसरे हाफ तक दोनों टीम बराबरी पर थी। लेकिन भारत ने तेजी दिखाई तथा थम्मैया के आखिरी गोल से भारत को 3-2 से जीत दिलाई। प्लेयर ऑफ द फाइनल सरदार सिंह रहे। जबकि रुपिन्दर पाल सिंह 11 गोल करके टूर्नामेंट के टॉप स्कोरर रहे और बेस्ट प्लेयर ऑफ द टूर्नामेंट भी बने। लीग मैच में भी भारत ने 3-2 से पाकिस्तान को हराया था। इस मैच में कप्तान पी आर श्रीजेश चोटिल होने के कारण से नही खेल पाए थे। श्रीजेश ने अपनी जीत को उरी के शहीदों को समर्पित किया और कहा हम एशियन चैंपियन ट्रॉफी जीतने के लिए कुछ भी करते। जीतने के बाद सभी खिलाडिय़ों ने अपनी खुशियों को जाहिर करते हुऐ भारत को दिवाली की शुभकामनाएं दी।

womenshockeycelebratebccl_1478352443 copy

भारत ने चीन को हराया (5 नवंबर)

भारतीय वुमन हॉकी टीम ने चीन को 2-1 से हराकर एशियन चैपिंयन हॉकी ट्रॉफी का खिताब पहली बार अपने नाम कर लिए। सिंगापुर में खेले गए फाइनल मैच में आखिरी वक्त तक मैच 1-1 से बराबर था लेकिन 60वें मिनट में स्ट्राइकर दीपिका ने गोल कर जीत दिला दी। हाफ टाइम तक भारत ने लीड कायम रखी लेकिन दूसरे हाफ में चीन ने खेल को 1-1 के बराबर कर दिया। तीसरे और चौथे क्वार्टर के दौरान दोनों टीमों ने एक दूसरे के गोल पोस्ट में काफी बार हमले करने की कोशिश की लेकिन स्कोर नही कर पाऐ। जब ऐसा लग रहा था कि मैच टाई हो जाएगा तभी दीपिका ने आखिरी मिनट पर चीन के खिलाफ एक और गोल कर दिया और एशियन वुमन चैपिंयन हॉकी ट्ऱॉफी भारत के नाम कर ली। हालांकि बता दे 31 अक्टूबर को एशियन मैन्स हॉकी के फाइनल में भारत ने पाकिस्तान को 3-2 से हराया था। भारत की जीत इस लिहाज से और खास हो जाती है क्योंकि लीग मैच में भारत को 3-2 से इसी टीम से हार मिली थी। लेकिन इसका बदला भारतीय वूमन हॉकी टीम ने फाइनल में जीत हासिल करने पर लिया। अंपायार के आखिरी निर्णय में भारत के गोल को सही साबित करने पर चीन के खिलाड़ी नाखुश थे तथा आखिरी मिनट पर खेलने से मना कर रहे थे।

जिम्नास्टिक पदक विजेता पर दो माह का प्रतिबंध

ब्रिटेन के जिम्नास्टिक प्लेयर तथा चार ओलंपिक पदक विजेता लुइस स्मिथ पर इस्लाम का मजाक उड़ाने पर दो माह का प्रतिबंध लगा दिया गया है। उन्होंने हाल ही में अपने साथियों के साथ एक वीडियो बनाई थी जिसमें वह नमाज पढऩे की एक्ंिटग रहे थे तथा उसके बाद अल्लाह-हू, अल्लाह-हू करके चिला रहे थे। वीडियो में उनके साथी ल्यूक कार्सन उनके पीछे अजीब हरकतें करते दिखाई दिये। स्मिथ की इन हरकतों के वजह से ब्रिटिश जिम्नास्टिक संघ ने उन पर यह प्रतिबंध लगाया है। संघ ने मगंलवार को यह भी बताया की ल्यूक ने माना है कि उनका व्यवहार उचित नहीं था।

1478458776882 copy

जोकोविक को हराकर एंडी मरे वल्र्ड नंबर वन बने

ब्रिटिश टेनिस खिलाड़ी एंडी मरे ने दुनिया के नंबर एक खिलाड़ी बनने का जश्न खिताब जीतकर मनाया। उन्होंने 6 नवंबर को पेरिस मास्टर्स के फाइनल में अमेरिका के जॉन इस्नेर को 6-3, 6-7(4), 6-4 से मात देकर पेरिस में पहली और सत्र की आठवीं ट्रॉफी जीती। मरे ने शनिवार को सार्बिया के नोवाक जोकोविक से शीर्ष स्थान छीन लिया था। अब वह वल्र्ड के नंबर वन खिलाड़ी बन गए हैं। जीत की खुशियों को जाहिर करते हुऐ मरे ने कहा ये मेरी टीम और मेरे परिवार के लिए खुशी का दिन होगा जिनके वजह से मैं आज टॉप रैंक पर पहुंच पाया हुं। इनके बिना मैं ये नहीं कर सकता था उन्होंने मेरे खातिर बहुत कुछ त्यागा ताकि मेें दुनिया में खेल के लिए सफर कर सकू। मैं अपने खेल को जारी रखूंगा तथा, और भी ज्यादा मेहनत करुंगा ताकि अपने खेल को और बेहतरीन बना सकूं।


भारत ने 22 गोल्ड जीते (6 नवंबर) 


 

-भारतीय पहलवानों ने सिंगापुर में खेली जा रही सीनियर कॉमनवेल्थ कुश्ती चैंपियनशिप में अपना दबदबा कायम रखते हुऐ दूसरे व अंतिम दिन आठ स्वर्ण और रजत सहित कुल 16 पदक जीते। भारत ने ग्रीको रोमन शैली में तीन स्वर्ण और फ्री स्टाइल में पांच स्वर्ण पदक जीते हैं।

-फ्री स्टाइल शैली के पाच वर्गों में भारत ने सभी पांच स्वर्ण जीते।

61 किग्रा में हर्फुल ने स्वर्ण और विकास ने रजत

65 किग्रा में बजरंग ने स्वर्ण और राहुल मान ने रजत

74 किग्रा में जितेंन्द्र ने स्वर्ण और संदीप काटे ने रजत

86 किग्रा में दीपक ने स्वर्ण और अरुण ने रजत

125 किग्रा में हितेंद्र ने स्वर्ण और कृष्ण ने रजत जीते।

ग्रीक रोमन स्टाइल में तीन स्वर्ण जीते

59 किग्रा में रवींद्र ने स्वर्ण और कृष्ण ने रजत

71 किग्रा में दीपक ने स्वर्ण और रफीक ने रजत

98 किग्रा में हरदीप ने स्वर्ण और सचीन ने रजत पदक जीता।

भारत ने पहले दिन 14 तथा दूसरे दिन 8 पदक

जीते इसी तरह दोनों दिनो में भारत ने कुल 22 पदक जीते।

भारतीय कुश्ती संघ के अध्यक्ष बृजभूषण शरण सिंह ने कहा कि पहली बार भारतीय पहलवान ने इतनी संख्या में पदक जीते हैं।

 


sania-mirza-no copy

दूसरे साल भी सानिया वर्ल्ड नंबर वन

भारत की प्रसिद्ध टेनिस प्लेयर सानिया मिर्जा भले अपनी साथी मार्टिना हिंगिस के साथ डब्लयूटीए के फाइनल का खिताब का बचाव ना कर सकी हों लेकिन वो लगातार दूसरी साल भी वल्र्ड डबल्स की रैंक पर प्रथम स्थान पर है। सानिया और स्विटजरलैंड की मार्टिना  हिंगिस की जोड़ी डबल्यूटीए में माकारोवा और एलीना वेस्नीना की जोड़ी से हार गयी थी। सानिया के डबल्यूटीए रैकिंग में 8135 रेटिंग अंक है जबकि उनकी पूर्व जोड़ीदर  हिंगिस  चौथे नंबर पर है। हिंगिस और सानिया एक साथ शीर्ष रैकिंग पर थी लेकिन हाल में स्विस खिलाड़ी रैकिंग में नीचे फिसल गयी। दुसरे नंबर पर फ्रांस की कैरोलाइन गार्सिया और क्रिस्टीना म्लोदेनोविच हैं।

Rohit Sharma

रोहित परेशानी के घेरे में

इंग्लैंड सीरीज से बाहर हुऐ रोहित शर्मा अक्टूबर 29 को न्यूजीलैंड के खिलाफ हुऐ मैच में चोटिल होने के कारण से आने वाली सीरीजों में नजर नहीं आएंगे। रोहित शर्मा ने कहा कि अगर डॉक्टर उनकी चोटिल जांघ के ऑपरेशन का फैसला करते हैं तो वह कम से कम तीन महीने तक क्रिकेट से बाहर हो जाएंगे। वैसे बता दे तो रोहित शर्मा रन लेते समय में उनकी मांसपेशियों में खिचांव आ गया था उनको रन लेते समय लगा की वह क्रीज तक नहीं पहुंच सकते इसलिए वह कूद गये अत: इसी कारण से उनकी जांघ में चोट लग गई थी। रोहित शर्मा ने पिछले मैच में विराट के साथ अच्छी पार्टनरशिप की थी।

जितिन कुमार

защита информации в лвсЛобановский

Leave a Reply

Your email address will not be published.