ब्रेकिंग न्यूज़ 

आधुनिक युग में आयुर्वेद का महत्व

आधुनिक युग में आयुर्वेद का महत्व

ञ्चया आप थकावट, आलस्य और उत्साह की कमी महसूस करते हैं? तो आयुर्वेद आसान और व्यावहारिक तरीकों से आपकी मदद कैसे कर सकता है? आज की दुनिया में समय बहुत मूल्यवान है, और हम ऐसे उपाय चाहते हैं जो शिघ्र ही परिणाम दे सकें। ऐलोपैथिक दवाएं रोग के प्रबंधन पर ध्यान देने वाली होती हैं, जबकि दिनचर्या का प्राचीन अध्ययन रोग की रोकथाम करने और उसके मूल कारण को खत्म करने की संपूर्ण जानकारी उपलब्ध कराता है।

प्रतिदिन आयुर्वेद

लेखक             : डॉ. भास्वती भट्टाचार्य

प्रकाशक         : मंजुल पब्लिशिंग हाउस

मूल्य              : २९९ रु.

पृष्ठ                : ३०९

आयुर्वेदिक जीवन-शैली के माध्यम से डॉ. भास्वती भट्टाचार्य आयुर्वेद के मूल सिद्धांतों का वर्णन करती हैं, और हमें बताती हैं कि इन्हें किस तरह से अपनी दिनचर्या में शामिल किया जाए वे जिन परिवर्तनों का सुझाव देती हैं, उनके तर्क और लाभ भी हमें समझती हैं । यह सूचनाप्रद और सुलभ पुस्तक एक आदर्श जीवन-शैली की संपूर्ण मार्गदर्शिका हैं, जिसे प्राकृतिक तरीके से स्वास्थ्य, आयु और आनंद को बढ़ाने के लिए तैयार किया गया है।

 उदय इंडिया ब्यूरो

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.