ब्रेकिंग न्यूज़ 

दीदी का खेल

दीदी का खेल

दीदी के पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री बनने के बाद अपने दिनेश बाबू के दिन लौट आए थे। सुना है फिर लौट आए हैं। आखिर दिनेश बाबू जो ठहरे। थोड़े से दार्शनिक, थोड़े से वैचारिक, घूम-फिर कर साहित्यिक अंदाज के भी। हालांकि वह इतिहास के पहले रेलमंत्री हैं जिन्होंने संसद में रेल-बजट तो रखा, लेकिन बाकी काम मुकुल राय ने किया। उनका पत्ता कट गया था। अब सुना है मुकुल पार्टी में सूखा पत्ता हो गए हैं और दिनेश बाबू की चलती है।самсунг драйвера на принтералександр лобановский

Leave a Reply

Your email address will not be published.