ब्रेकिंग न्यूज़

गरीबों को नवंबर तक मिलेगा मुफ्त अनाज, ‘एक राष्ट्र, एक राशन कार्ड’ पर काम जारी: पीएम मोदी

गरीबों को नवंबर तक मिलेगा मुफ्त अनाज, ‘एक राष्ट्र, एक राशन कार्ड’ पर काम जारी: पीएम मोदी

प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने कल देशभर में 80 करोड जरूरतमंद लोगों को अगले पांच महीने तक मुफ्त राशन देने की घोषणा की। प्रधानमंत्री गरीब कल्‍याण अन्‍न योजना का इस साल नवम्‍बर के अंत तक विस्‍तार कर दिया गया है। कोविड-19 महामारी के प्रकोप के बाद घोषित इस योजना के अंतर्गत गरीब परिवारों के हर सदस्‍य को हर महीने पांच किलोग्राम गेहूं या चावल और एक किलोग्राम साबुत चना मुफ्त उपलब्‍ध कराया जाता है। इस योजना को नवम्‍बर तक बढ़ाने पर सरकार को 90 हजार करोड़ रुपए से अधिक राशि खर्च करनी होगी।

आज शाम राष्‍ट्र को सम्‍बोधित करते हुए श्री मोदी ने कहा कि पिछले तीन महीनों में करीब बीस करोड़ गरीब लोगों के जनधन खातों में 31 हजार करोड रुपए अंतरित किए गए हैं। इसी तरह नौ करोड़ से अधिक किसानों के बैंक खातों में 18 हजार करोड़ रुपए भेजे गए हैं। गरीबों को रोजगार उपलब्‍ध कराने के लिए चलाए जा रहे प्रधानमंत्री गरीब कल्‍याण रोजगार अभियान पर 50 हजार करोड़ रुपए खर्च किए जा रहे हैं। उन्‍होंने कहा कि आज देश एक-राष्‍ट्र, एक-राशन कार्ड की दिशा में आगे बढ़ रहा है, जिससे रोजगार के लिए एक राज्‍य से दूसरे राज्‍य में जाने वाले गरीब मजदूरों को बड़ा फायदा होगा।

प्रधानमंत्री ने कहा कि अगर कोरोना महामारी की वजह से मृत्‍युदर पर नजर डाली जाए तो यह बात स्‍पष्‍ट हो जाती है कि अन्‍य देशों के मुकाबले भारत, इस महामारी से निपटने में बड़ी मजबूत स्‍थिति में रहा है। प्रधानमंत्री ने यह भी कहा कि समय पर लॉकडाउन लागू करने के फैसले से कई जानें बचाई जा सकीं। उन्‍होंने कहा कि जब से देश में अनलॉक-वन शुरू हुआ है, कुछ लोग अपने व्यक्तिगत और सामाजिक व्यवहार में लापरवाही बरत रहे हैं। उन्‍होंने कहा कि अनलॉकडाउन के दौरान भी नियमों पर उसी तरह से अमल किया जाना चाहिए जिस तरह लॉकडाउन के दौरान किया गया था। प्रधानमंत्री ने यह भी कहा कि लोगों को अनुशासन बनाए रखना चाहिए और जो लोग नियमों का पालन नहीं कर रहे हैं उन्‍हें रोका जाना चाहिए, उन्‍हें जागरूक बनाया जाना चाहिए। उन्‍होंने आगाह किया कि कोई भी व्‍यक्ति कानून से ऊपर नहीं है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.