ब्रेकिंग न्यूज़ 

भारतीय रेल तेज गति की रेलगाड़ियों में सभी नॉन ए.सी. स्लीपर कोच को ए.सी. कोच में बदलेगी

भारतीय रेल तेज गति की रेलगाड़ियों में सभी नॉन ए.सी. स्लीपर कोच को ए.सी. कोच में बदलेगी

रेलवे ने तेज़ गति की सभी रेलगाड़ि‍यों में नॉन ए.सी. स्‍लीपर कोच को ए.सी. कोच में बदलने का फैसला किया है। एक सौ तीस किलोमीटर प्रति घंटे और इससे अधिक रफ्तार से चलने वाली सभी रेलगाड़ि‍यों को विशेष ए.सी. कोचों में बदला जाएगा। रेल मंत्रालय ने कहा कि यह निर्णय सिर्फ तेज़ गति की रेलगाड़ियों के लिए है, एक सौ दस किलोमीटर प्रति घंटे की अधिकतम गति से चलने वाली सभी मौजूदा मेल और एक्‍सप्रेस ट्रेनों में स्‍लीपर कोच बने रहेंगे। रेल विभाग रेल नेटवर्क को उच्‍च गति क्षमता में उन्‍नत करने की व्‍यापक योजना पर काम कर रहा है। स्‍वर्णि‍म चतुर्भुज मार्गों पर रेल पटरियां 130 किलोमीटर से लेकर 160 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार की ट्रेनों के लिए उन्‍नत की जा रही हैं। कुछ कॉरिडोर में गति क्षमता बढ़ाकर 130 किलोमीटर प्रति घंटे की जा चुकी है। रेल मंत्रालय ने कहा कि मौसम संबंधी कारकों को देखते हुए केवल कुछ विशेष प्रकार के कोच वाली रेलगाड़ि‍यां ही अधिक गति से संचालित की जा सकती हैं।

मौजूदा समय में अधिकांश मेल और एक्‍सप्रेस रेलगाड़ि‍यां अधिकतम 110 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से चलती हैं। राजधानी, शताब्‍दी और दुरंतो रेलगाड़ि‍यों को स्‍वर्णि‍म चतुर्भुज के प्रमुख मार्गों पर 120 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से संचालित करने की अनुमति है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.