ब्रेकिंग न्यूज़ 

स्वास्थ्य मंत्रालय जनसंख्या के बड़े हिस्से को कवर करने के लिए एक से अधिक कोविड वैक्सीन के उपयोग पर विचार कर रहा है

स्वास्थ्य मंत्रालय जनसंख्या के बड़े हिस्से को कवर करने के लिए एक से अधिक कोविड वैक्सीन के उपयोग पर विचार कर रहा है

सरकार कोविड उपचार में बड़ी आबादी को कवर करने के लिए एक से अधिक वैक्‍सीन के उपयोग पर विचार कर रही है। स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री हर्षवर्धन ने कहा कि देश की बड़ी जनसंख्‍या को ध्‍यान में रखते हुए एक वैक्‍सीन या एक वैक्‍सीन निर्माता पूरे देश की ज़रूरतों को पूरा करने में सक्षम नहीं होगा। श्री हर्षवर्धन रविवार संवाद की पांचवीं कड़ी के तहत अपने सोशल मीडिया अकाउंट पर लोगों के सवालों के जवाब दे रहे थे। स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री ने कहा कि भारत को कोरोना वैक्‍सीन उपलब्‍ध हो जाने के बाद प्रत्‍येक देशवासी को संक्रमण से बचाने के लिए एक से अधिक वैक्‍सीन निर्माताओं से संपर्क करना होगा। उन्‍होंने समाज के सर्वाधिक संवेदनशील और वंचित समूहों तक पहले वैक्‍सीन पहुंचाना सुनिश्चित करने पर बल दिया। डॉक्‍टर हर्षवर्धन ने कहा कि भारत में सभी कोविड वैक्‍सीन परीक्षण के पहले, दूसरे या तीसरे चरण में हैं और परिणामों की प्रतीक्षा है।

डॉक्टर हर्षवर्धन ने इन अफवाहों का कड़ाई से खंडन किया है कि सरकार आर्थिक कारणों से कोविड वैक्‍सीन उपलब्ध कराने में युवा और नौकरीपेशा लोगों को प्राथमिकता देगी। उन्‍होंने कहा कि प्राथमिकता समूहों का निर्धारण दो प्रमुख आधारों पर किया जायेगा। ये आधार हैं – संक्रमण से ग्रस्‍त होने की अधिक आशंका वाले लोग और कोविड उपचार में लगे पेशेवर लोग। स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री ने लोगों से ऐसी किसी भी ख़बर की पुष्टि किए बिना उसे साझा नहीं करने का आग्रह किया।

डॉक्‍टर हर्षवर्धन ने लोगों से त्‍योहारों के दौरान आवश्‍यक ऐहतियाती उपाय बरतने का आग्रह किया। उन्‍होंने लोगों से त्‍योहारों के दौरान बड़ी संख्‍या में एकत्र होने से बचने और मंदिरों में भी मास्‍क का उपयोग करने को कहा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.