ब्रेकिंग न्यूज़ 

सतह से आकाश में मार करने वाली क्विक रिएक्‍शन मिसाइल प्रणाली का ओडिसा में चांदीपुर तट पर स्थित परीक्षण केंद्र से दूसरा सफल परीक्षण किया

सतह से आकाश में मार करने वाली क्विक रिएक्‍शन मिसाइल प्रणाली का ओडिसा में चांदीपुर तट पर स्थित परीक्षण केंद्र से दूसरा सफल परीक्षण किया

सतह से आकाश में मार करने वाली क्विक रिएक्‍शन मिसाइल प्रणाली-क्‍यूआरएसएएम का आज ओडिसा में चांदीपुर तट पर स्थित परीक्षण केंद्र से दूसरा सफल परीक्षण किया गया। इससे पहले, 13 नवम्‍बर को भी क्‍यूआरएसएएम का पहला सफल परीक्षण हुआ था। आज का हवाई परीक्षण उच्‍च क्षमता वाले मानव रहित हवाई लक्ष्‍य बंशी पर किया गया।

पहले रडारों ने लंबी दूरी से लक्ष्‍य की पहचान की और जब यह लक्ष्‍य रडार पर निशाने पर आ गया तो कम्‍प्‍यूटर से स्‍वचालित तरीके से मिसाइल दागी गई। परीक्षण के दौरान रडार के जरिए मिसाइल को लगातार निर्देशित किया गया। मिसाइल को दागे जाने के बाद यह अपने लक्ष्‍य के काफी करीब पहुंच गई और इस पर लगे हथियार सक्रिय हो गये।

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने सतह से आकाश में मार करने वाली क्‍यूआरएसएएम के दो सफल परीक्षणों के लिए रक्षा अनुसंधान और विकास संगठन-डीआरडीओ को बधाई दी है। अपने ट्वीट संदेश में रक्षा मंत्री ने कहा है कि 13 नवंबर को किए गए पहले परीक्षण में मिसाइल की रडार और अन्‍य क्षमताओं का सफल परीक्षण किया गया था। आज के परीक्षण से ठिकाने का पता लगाकर अचूक निशाना लगाने की इसकी क्षमता साबित हो गई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.