ब्रेकिंग न्यूज़ 

काचरू जी आए, काचरू जी गए

भाई अपुन की स्मृति ईरानी का जवाब नहीं। टीवी वालों की तरह उनकी भी टीआरपी चढ़ती-उतरती रहती है, लेकिन वह किसी की परवाह नहीं करतीं। संघ का एक धड़ा उनको मिले महत्वपूर्ण विभाग से नाराज है। अमितभाई शाहजी काफी दिनों से भाव नहीं दे रहे हैं। जेटलीजी भी मुंह बिचका लेते हैं। ये सब जो है सो है, ओएसडी बिचारे संजय काचरू भी चले गए। लेकिन, मैडम की सेहत पर कोई फर्क  नहीं है। खबरची बताते हैं कि एक बार चर्चा छिडऩे पर वह  खुद ही बोल पड़ी कि इसमें उनका कोई लेना देना नहीं है। काचरू जी संघ के आदमी थे, संघ ने भेजा था और संघ ने ही उन्हें वापस बुला लिया। बाकी उनके काम-काज से तो सब खुश हैं।

ламинат цена м2yandex adwords

Leave a Reply

Your email address will not be published.