ब्रेकिंग न्यूज़ 

देश के बुनियादी ढांचे को मजबूत करने के लिए पूरे विश्‍व से निवेश आकर्षित करने के प्रयास किए जा रहे हैं: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

देश के बुनियादी ढांचे को मजबूत करने के लिए पूरे विश्‍व से निवेश आकर्षित करने के प्रयास किए जा रहे हैं:  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि देश के बुनियादी ढांचे में सुधार के लिए दुनियाभर से निवेश आकर्षित करने के प्रयास किए जा रहे हैं। श्री मोदी ने कहा कि राष्ट्रीय ढांचागत पाइपलाइन परियोजनाओं के अंतर्गत सौ लाख करोड़ रुपये से अधिक खर्च किए जाएंगे। उन्होंने कहा कि मल्टी-मॉडल कनेक्टिविटी इन्फ्रास्ट्रक्चर मास्टर प्लान पर भी काम किया जा रहा है।

श्री मोदी ने कल वीडियो कांफ्रेंस के जरिए उत्तर प्रदेश के आगरा में मेट्रो परियोजना के निर्माण कार्य का उद्घाटन करने के बाद कहा कि आठ हजार करोड़ रुपये से अधिक की राशि से बनने वाली इस मेट्रो परियोजना से आगरा में उच्‍च श्रेणी की सुविधाएं प्रदान करने से संबंधित मिशन को बल मिलेगा।

प्रधानमंत्री ने कहा कि देश के बुनियादी ढांचे की एक बड़ी समस्या यह है कि नई परियोजनाओं की घोषणा तो कर दी जाती है, लेकिन इस बात पर ज्यादा ध्यान नहीं दिया गया कि पैसा कहां से आएगा। श्री मोदी ने कहा कि उनकी सरकार ने नई परियोजनाओं के लिए आवश्यक धनराशि सुनिश्चित की है। प्रधानमंत्री ने कहा कि सरकार का ध्यान छोटे शहरों को आत्मनिर्भर भारत का आधार बनाने पर है और आगरा में मेट्रो परियोजना इसका एक उदाहरण है।

पर्यटन क्षेत्र के बारे में प्रधानमंत्री ने कहा कि सरकार ने ई-वीजा योजना के तहत लाए गए देशों की संख्या में वृद्धि की है और होटल के कमरे का किराया काफी कम कर दिया है। उन्होंने कहा कि स्वदेश दर्शन और प्रसाद जैसी योजनाओं से पर्यटकों को आकर्षित करने का प्रयास किया जा रहा है। मेट्रो सेवाओं के आर्थिक महत्व पर प्रकाश डालते हुए, प्रधानमंत्री ने कहा कि मेट्रो से प्राचीन शहर के पर्यटन क्षेत्र को भी मदद मिलेगी। श्री मोदी ने कहा कि सरकार के प्रयासों से भारत अब यात्रा और पर्यटन प्रतिस्पर्धात्मकता सूचकांक में 34वें स्थान पर है जबकि 2013 में भारत इस सूचकांक में 65वें स्थान पर था। उन्होंने आशा व्‍यक्‍त की कि कोरोना की स्थिति में सुधार हो रहा है इसलिए जल्द ही पर्यटन क्षेत्र का आकर्षण भी लौट आएगा।

प्रधानमंत्री ने बताया कि 2014 के बाद 450 किलोमीटर मेट्रो लाइन का परिचालन किया गया, जबकि इससे पहले यह मात्र 225 किलोमीटर थी। उन्होंने यह भी बताया कि एक हजार किलोमीटर लंबी मेट्रो लाइनों पर काम तेजी से आगे बढ़ रहा है। उन्होंने कहा कि देश के 27 शहरों में इस पर काम जारी है।

पश्चिमी उत्तर प्रदेश में चल रही विभिन्न विकास परियोजनाओं का उल्‍लेख करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि दिल्ली से मेरठ तक पहली रैपिड रेल प्रणाली निर्माणाधीन है और राज्य के पश्चिमी भाग में ग्रीनफील्ड हवाई अड्डे सहित कई अन्य विकास कार्य प्रगति पर हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.