ब्रेकिंग न्यूज़ 

भारतीय रेल ने नेशनल रेल प्लान प्रारूप प्रस्तुत किया

भारतीय रेल ने नेशनल रेल प्लान प्रारूप प्रस्तुत किया

देश की कुल माल भाड़े की आर्थिक व्‍यवस्‍था में क्षमता की कमी को दूर करने और इसके महत्‍वपूर्ण हिस्से को सुधारने के प्रयास में भारतीय रेल ने एक नेशनल रेल प्लान प्रारूप प्रस्‍तुत किया है। राष्ट्रीय रेल योजना के नाम से एक लम्‍बी अवधि की रणनीतिक योजना रेलवे की ढांचागत हिस्सेदारी बढ़ाने की नीति के साथ-साथ ढांचागत क्षमता वृद्धि के लिए विकसित की गई है। यह योजना रेलवे के भविष्य के सभी बुनियादी ढाँचे, व्यवसाय और वित्तीय नियोजन को एक सामान्य मंच प्रदान करेगी। इस योजना को अब विभिन्न मंत्रालयों के बीच उनके विचार जानने के लिए भेजा जा रहा है। रेलवे का लक्ष्य इस योजना को जनवरी 2021 तक अंतिम अंतिम रूप देना है। रेल मंत्रालय ने कहा है कि वर्ष 2030 तक भविष्‍य की मांग के अनुरूप  क्षमता का निर्माण करना है, जो 2050 तक मांग में वृद्धि को पूरा करेगा। रेलवे का यह मॉडल 2030 तक  माल ढुलाई में 27 से 45 प्रतिशत तक कार्बन उत्सर्जन को कम करने और इसे 2030 तक शुद्ध शून्य कार्बन उत्सर्जन तक ले जाने की प्रतिबद्धता को पूरा करने का प्रयास करेगा। मंत्रालय ने कहा है कि वर्ष 2024 तक राष्ट्रीय रेल योजना के हिस्से के रूप में कुछ महत्वपूर्ण परियोजनाओं, जैसे कि सौ प्रतिशत विद्युतीकरण, भीड़भाड़ वाले मार्गों की मल्टीट्रैकिंग और दिल्ली-हावड़ा और दिल्ली-मुंबई मार्गों पर 160 किलोमीटर प्रति घंटे की गति के उन्नयन वास्‍ते त्वरित कार्यान्वयन के लिए विज़न 2024 शुरू किया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.