ब्रेकिंग न्यूज़ 

31 दिसंबर तक ब्रिटेन की उड़ाने निलंबित

31 दिसंबर तक ब्रिटेन की उड़ाने निलंबित

कोविड-19 महामारी के ख़िलाफ़ जहां ब्रिटेन में टीकाकरण शुरू हो चुका तो वहीं कोविड का नया स्ट्रेन तेज़ी से वायरस फैला रहा है। स्थिति को देखते हुए भारत के स्वास्थ्य मंत्रालय ने सोमवार को एक उच्च स्तरीय बैठक कर स्थिति का आंकलन किया। मंत्रालय ने आश्वस्त किया कि ब्रिटेन में उपजी स्थिति से डरने और घबराने की ज़रूरत नहीं है। भारत सरकार अपने नागरिकों को सुरक्षित रखने के हर-संभव कदम उठाने को तैयार है और संभवतः जनवरी में भारत में टीकाकरण भी शुरू हो जाएगा। कोरोना वायरस के नए स्ट्रेन के चलते केंद्र सरकार ने ब्रिटेन से आने-जाने वाली सभी फ्लाइट्स को 31 दिसंबर तक रद्द कर दिया है। भारत ने एहतियातन 22 दिसंबर की रात 23.59 तक आने वाली उड़ानों के यात्रियों के लिए आरटी-पीसीआर जांच को अनिवार्य कर दिया है।

वहीं ब्रिटेन में युद्धस्तर पर कोविड के नए स्ट्रेन की रोकथाम के लिए प्रयास जारी हैं। वहां श्रेणी-4 का सख़्त लॉकडाउन लगा दिया गया है। इसके अलावा दुनिया के 30 से ज़्यादा देशों ने ब्रिटेन से आवाजाही फिलहाल रोक दी है।

वहीं ब्रिटेन में चल रह कोविड-19 रोकथाम के टीकाकरण कार्यक्रम पर किसी भी तरह का प्रभाव नहीं पड़ेगा। साथ ही नए स्ट्रेन पर भी टीका समान रूप से प्रभावी रहेगा। इसके अलावा इसके लक्षण पहले वाले वायरस की तरह ही देखे गए हैं। दूसरी ओर एहतियाती तौर पर फ्रांस ने ब्रिटेन के साथ सभी तरह के परिवहन को बंद कर दिया था। जर्मनी के विदेश मंत्री ने यूरोपियन यूनियन से अपील की है कि वो वायरस के नए प्रारूप को लेकर बेहतर प्रबंधन के कदम उठाने में सहयोग करे।

आस्ट्रेलिया में भी साउथ वेल्स में दो यात्री जिन्होंने ब्रिटेन की यात्रा की थी उनके अंदर कोविड-19 वायरस के नए स्ट्रेन मिले हैं। दोनों को ही आइसोलेशन में रखा गया है। दरअसल संक्रमण से बचाव के उपाय वहीं हैं जो अभी तक पूरी दुनिया अपनाती आई है यानि अपने हाथों को समय-समय पर धोते रहिए। मास्क ज़रूर पहने और शारीरिक दूरी का ज़रूर ख़्याल रहें। जागरूकता और सतर्कता ही कोविड-19 की रोकथाम का अचूक हथियार है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.