ब्रेकिंग न्यूज़ 

आजादी के समय प्रति व्यक्ति पानी की उपलब्धता 5000 लीटर थी जो अब 1100 लीटर हो गई है। खेती में लगभग 85% पानी की खपत होती है इसलिए सबसे पहले खेती के क्षेत्र से पानी को बचाना होगा। इसके लिए कई नई तकनीक हैं: विश्व सतत विकास शिखर सम्मेलन में केंद्रीय पर्यावरण मंत्री प्रकाश जावडे़कर

आजादी के समय प्रति व्यक्ति पानी की उपलब्धता 5000 लीटर थी जो अब 1100 लीटर हो गई है। खेती में लगभग 85% पानी की खपत होती है इसलिए सबसे पहले खेती के क्षेत्र से पानी को बचाना होगा। इसके लिए कई नई तकनीक हैं: विश्व सतत विकास शिखर सम्मेलन में केंद्रीय पर्यावरण मंत्री प्रकाश जावडे़कर

Leave a Reply

Your email address will not be published.