ब्रेकिंग न्यूज़ 

देश में जल्द ही दुनिया का पहला डीएनए-प्लास्मिड वैक्सीन उपलब्‍ध होगा

देश में जल्द ही दुनिया का पहला डीएनए-प्लास्मिड वैक्सीन उपलब्‍ध होगा

टीकाकरण पर राष्ट्रीय तकनीकी सलाहकार समूह-एनटीएजीआई से संबद्ध कोविड-19 कार्यबल के अध्यक्ष डॉक्‍टर नरेंद्र कुमार अरोड़ा ने कहा है कि देश में जल्द ही दुनिया का पहला डीएनए-प्लास्मिड वैक्सीन उपलब्‍ध होगा, जिसे जाइडस कैडिला ने विकसित कियाा है। उन्‍होंने कहा कि सरकार को जल्‍द ही एक और प्रोटीन युक्‍त वैक्‍सीन-बायोलॉजिकल ई उपलब्‍ध होने की उम्‍मीद है। उन्होंने बताया कि इन वैक्‍सीन के परीक्षण काफी उत्साहजनक रहे हैं और इनके इस साल सितंबर तक उपलब्ध हो जाने की संभावना है। डॉक्‍टर अरोड़ा ने बताया कि सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया और जॉनसन एंड जॉनसन द्वारा नोवावैक्स नामक दो अन्य वैक्‍सीन के भी जल्द ही उपलब्‍ध होने की उम्मीद की जा सकती है। उन्होंने कहा कि जुलाई के तीसरे सप्ताह तक भारत बायोटेक और सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया की उत्पादन क्षमता में अच्‍छी खासी बढोतरी होने जा रही है जिससे देश में वैक्सीन की आपूर्ति और बढ़ जायेगी।

डॉक्‍टर अरोड़ा ने बताया कि अगस्त के महीने तक देश में 30 से 35 करोड़ वैक्‍सीन उपलब्‍ध होने की उम्‍मीद है और इससे हम प्रति दिन एक करोड़ लोगों का टीकाकरण करने में सक्षम हो  जायेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.