ब्रेकिंग न्यूज़ 

बीसवीं सदी की सोच के साथ 21वीं सदी के भारत की जरूरतें पूरी नहीं हो सकती: प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी

बीसवीं सदी की सोच के साथ 21वीं सदी के भारत की जरूरतें पूरी नहीं हो सकती: प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कहा है कि सरकार का उद्देश्य केवल क्रंकीट का ढांचा खड़ा करना नहीं है बल्कि बेहतर बुनियादी अवसंरचना का निर्माण करना है, जिसकी अपनी विशेषताएं हों।

प्रधानमंत्री कल गुजरात के गांधीनगर और अहमदाबाद में वीडियो कांफ्रेंस के माध्यम से कई विकास परियोजनाओं का शुभारंभ कर रहे थे। उन्होंने गांधीनगर के नवनिर्मित आधुनिक रेलवे स्टेशन और इसके ऊपर बने पांच सितारा होटल का उदघाटन किया।

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि देश के रेलवे सेक्टर में सुधार की जरूरत है और सरकार एक सेवा के तौर पर इसके आधुनिकीकरण के अलावा इसे एक परिसंपत्ति के रूप में भी विकसित कर रही है। उन्होंने कहा कि देश के सभी रेलवे स्टेशनों को आधुनिक बनाया जा रहा है। दूसरी और तीसरी श्रेणी के शहरों के रेलवे स्टेशन भी वाई-फाई सुविधा से लैस किए जा रहे हैं।

21वीं सदी के भारत की जरूरत 20वीं सदी के तौर तरीकों से पूरी नहीं हो सकती और इसलिए रेलवे में नए सिरे से रिफार्म की जरूरत थी। हमने रेलवे को सिर्फ एक सर्विस के तौर पर नहीं बल्कि एक एसेट के तौर पर विकसित करने के लिए काम शुरू किया। आज भारतीय रेल में सुविधा भी बढ़ी है, स्‍वच्‍छता भी बढ़ी है और स्‍पीड भी बढ़ी है। आने वाले दिनों में जैसी ही डेडीकेटेड फ्रेट कॉरिडोर शुरू हो जाएंगे ट्रेनों की स्‍पीड और बढ़ेगी।

प्रधानमंत्री ने कहा कि नए भारत के निर्माण की विकास रेल दोहरी पटरी पर आगे बढ़ती रहेगी। एक पटरी आधुनिकीकरण की होगी और दूसरी किसानों, निर्धनों और मध्यम वर्ग के लोगों के कल्याण के लिए होगी। उन्होंने कहा कि सरकार के हाल के प्रयासों से देश का रेलवे नेटवर्क अब पूर्वोत्तर क्षेत्र के राजधानी-स्टेशनों तक पहुंच गया है।

गुजरात साईंस सिटी में नई परियोजना के शुभारंभ का उल्लेख करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि इससे अध्ययन और रचनात्मकता के जरिए बच्चों के स्वाभाविक विकास में मदद मिलेगी। साइंस सिटी एक ऐसा प्रोजेक्‍ट है जो रिक्रिएशन और क्रिएविटी को आपस में जोड़ता है। इसमें ऐसी रिक्रिएशन एक्‍टिविटी है जो बच्‍चों में क्रिएविटी को बढ़ावा देती है। इसमें खेलकूद है, मौजमस्‍ती है और इसके साथ-साथ ये बच्‍चों को कुछ नया सिखाने का प्‍लेटफार्म भी है।

इस अवसर पर वीडियो कांफ्रेंस के माध्यम से गृहमंत्री अमित शाह ने कहा कि प्रधानमंत्री ने जिन परियोजनाओं का शुभारंभ किया है उनका उद्देश्य बुनियादी ढांचा विकास और पर्यटन क्षेत्र को सुदृढ करना है।

गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने भी समारोह को संबोधित किया। उन्होंने कहा कि जहां विश्व के अनेक देशों में कोविड महामारी के कारण आर्थिक गतिविधियां ठप्प हो गई हैं वहीं प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में भारत में विकास कार्य निर्बाध जारी हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.