ब्रेकिंग न्यूज़ 

नशे की गिरफ्त में बॉलीवुड

नशे की गिरफ्त में बॉलीवुड

कोर्डिलिया क्रूज शिप ड्रग्स केस में शाहरुख खान के बेटे आर्यन खान के पास से भले कोई ड्रग्स नही मिला था। लेकिन जिस तरह से उनके व्हाट्सएप चैट में ड्रग्स का जिक्र आया और उसके जरिये एक और अभिनेत्री अनन्या पांडे भी नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो के निशाने पर आयी उससे बॉलीवुड में ड्रग्स की चर्चा एक बार फिर चल पड़ी है और सवाल उठने लगा है कि क्या फिल्मी दुनिया की चकाचौंध की आड़ में नशे की काली दुनिया का राज है? कहीं पूरा बॉलीवुड तो ड्रग्स में डूबा नही है?

बॉलीवुड और ड्रग्स का कनेक्शन वैसे तो बहुत पुराना है। साल 2001 में  नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो ने अभिनेता फरदीन खान को एक ग्राम कोकीन खरीदने की कोशिश के आरोप में गिरफ्तार किया था। फरदीन पर कोकीन के सेवन का आरोप लगा था। हालांकि उस दैरान फरदीन की जल्दी जमानत हो गई थी और साल 2012 में उनके ऊपर से आरोप भी खारिज हो गया क्योंकि उन्होंने डी एडिक्शन कार्यक्रम में हिस्सा लिया था।

साल 2016 में ठाणे पुलिस ने अभिनेत्री ममता कुलकर्णी को एफिड्रिन ड्रग्स सप्लाई के केस में आरोपी बनाया। ठाणे पुलिस ने एक फैक्ट्री से 2000 करोड़ की ड्रग्स बरामद कर एक बड़े अंतरराष्ट्रीय ड्रग्स सिंडिकेट का पर्दाफाश करने का दावा किया था। कीनिया में ममता कुलकर्णी के पार्टनर विकी गोस्वामी को मुख्य सरगना बताते हुए ठाणे पुलिस ने ममता कुलकर्णी के घर पर पर भगोड़ा घोषित करने की प्रक्रिया के तहत नोटिस भी चस्पा किया था। लेकिन तब बॉलीवुड पर ड्रग्स में डूबे होने का आरोप नही लगा था।

14 जून 2020 को अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत अपने बान्द्रा के घर में संदिग्ध अवस्था मे मृत पाए गए। घर वालों ने हत्या का शक जाहिर किया। कंगना रनौत और कबीर बेदी जैसी बड़ी फिल्मी हस्तियों ने भी सुशांत की मौत पर सवाल उठाया। पहले मुंबई पुलिस फिर पटना पुलिस और बाद में सीबीआई ने भी महीनों जांच पड़ताल की। उस जांच का नतीजा तो आज तक नही निकला लेकिन मामले में मनी लॉन्ड्रिंग की जांच कर रहे प्रवर्तन निदेशालय ने सुशांत सिंह राजपूत की गर्ल फ्रेंड रिया चक्रवर्ती के मोबाइल फोन से व्हाट्सऐप चैट रिट्रीव कर कथित ड्रग्सजाल  का ऐसा पिटारा खोला कि नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो आज भी उसे पूरी तरह सुलझा नही पाया है। जबकि तब दर्ज किए 16/20 केस में 35 के करीब गिरफ्तारी हो चुकी है। जिनमें रिया चक्रवर्ती से लेकर उनका भाई शोविक चक्रवर्ती यहां तक कि मशहूर फिल्म मेकर करण जौहर के धर्मा प्रोडक्शन से कभी जुड़े रहे क्षितिज प्रसाद और कई बड़े ड्रग्स सप्लायर भी शामिल हैं। मामले में 2 बड़ी फिल्म तारिकाएं श्रद्धा कपूर, सारा अली खान का बयान भी दर्ज किया गया था।

रिया चक्रवर्ती के व्हाट्सएप चैट से मिले ड्रग्स लिंक के आधार पर दिल्ली एनसीबी ने भी 15/20 मामला दर्ज कर मुंबई में बॉलीवुड से जुड़ी कई बड़ी हस्तियों का बयान दर्ज किया था। जिनमें दीपिका पादुकोण, रकुल प्रीत सिंह जैसे बड़े नाम भी थे।

लेकिन हैरानी की बात है कि दोनों ही मामलों की जांच का नतीजा आज भी गुलदस्ते में है। 16/20 में गिरफ्तार आरोपियों के खिलाफ आरोप पत्र दायर हुआ है। लेकिन 15/20 में तो कोई आरोप पत्र भी दायर नही हो पाया है।

जून 2020 के पहले तक जिस नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो को मुंबई में कोई जानता तक नही था वो आज बॉलीवुड में दहशत का पर्याय बन चुका है।  खबर है कि आर्यन खान ने जब अपने पिता शाहरुख खान से कोर्डिलिया क्रूज शिप में जाने की बात कही थी तब एक पिता के तौर पर शाहरुख खान ने अपने बेटे आर्यन को हिदायत दी थी कि संभलकर रहना एनसीबी वाले आजकल बहुत सक्रिय हैं। हिदायत के बावजूद अपने दोस्त अरबाज के पास से मिले ड्रग्स की वजह से आर्यन खान खुद एनसीबी के हत्थे चढ़ गए। करीब 28 दिन सलाखों के पीछे रहने के बाद बड़ी मुश्किल से बॉम्बे हाई कोर्ट से जमानत पर छूटे पाए हैं।

क्रूज शिप ड्रग्स पार्टी मामले में आर्यन खान की  गिरफ्तारी के बाद अब एक बार फिर से बॉलीवुड में ड्रग्स की चर्चा ने तूल पकड़ा है।  इस बार भी मामले में ड्रग्स कम आर्यन खान के मोबाइल फोन से मिला ड्रग्स से जुड़ा चैट ही मुसीबत बनकर आया है। अभिनेता चंकी पांडे की बेटी और अभिनेत्री अनन्या पांडे अब भी एनसीबी के निशाने पर हैं।

लेकिन इस बार दागदार गवाह और आर्यन खान को छुड़ाने के लिये 25 करोड़ के डील के आरोप के चलते मुंबई एनसीबी के जोनल डायरेक्टर समीर वानखड़े विवादों में घिर गए हैं। एक तरफ मुंबई पुलिस की एसआईटी और दूसरी तरफ एनसीबी की विजिलेंस टीम आरोप की पड़ताल में जुटी है तो मुंबई एनसीबी के पास से 6 मामलों की समीक्षा का जिम्मा दिल्ली से आयी एनसीबी की एसआईटी को दिया जा चुका है।

जिसमें क्रूज शिप ड्रग्स पार्टी केस के साथ, एनसीपी प्रवक्ता नवाब मलिक के दामाद समीर खान का केस, अभिनेता अरमान कोहली का केस, अंडरवल्र्ड सरगना दाऊद इब्राहिम के भाई इकबाल कासकर का केस भी शामिल है।

राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के प्रवक्ता और कैबिनेट मंत्री नवाब मलिक ने तो मुंबई नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो के जोनल डायरेक्टर समीर वानखेड़े के ऊपर बॉलीवुड से पैसों की वसूली का गंभीर आरोप लगा दिया है। नवाब मलिक ने  समीर वानखेड़े और उनकी  बहन याश्मिन वानखेड़े की सोशल मीडिया पर मौजूद तस्वीरों के जरिये दावा किया कि उन्होने दुबई और मालदीव में बॉलीवुड से पैसे वसूले।

हालांकि  समीर वानखेड़े ने साफ किया कि वो दुबई गये ही नही थे और मालदीव परिवार के साथ गये थे। वानखेड़े पूछते हैं क्या परिवार के साथ कोई वसूली करने जाता है?

एक कहावत है मुद्दई सुस्त गवाह चुस्त। नवाब मलिक का आरोप भी कुछ ऐसा ही है क्योंकि बॉलीवुड से किसी ने भी अभी तक एनसीबी पर उससे जबरन उगाही का आरोप नहीं लगाया है। यहां तक कि आर्यन खान मामले में पंच गवाह प्रभाकर साइल के 25 करोड़ की डील के खुलासे के बाद एन सी  बी  की विजिलेंस टीम और मुम्बई पुलिस की एसआईटी टीम दोनों जांच कर रही हैं। दोनों ही एजेंसियां  प्रभाकर साइल सहित 15 से भी ज्यादा लोगों के बयान दर्ज कर चुकी हैं। किरण गोसावी को एनसीबी और शाहरुख की मैनेजर पूजा ददलानी से मिलाने वाला सैम डिसूजा भी 50 लाख रुपये वापस मिलने की बात कबूल कर  डील के आरोप को बल दे चुका है।

लेकिन जिस पूजा ददलानी पर डील करने और 50 लाख रुपये एडवांस देने का आरोप है वो पूजा ददलानी दोनों ही एजेंसियों के सामने पेश नही हुई हैं। जबकि पूजा ददलानी को अभी तक 2 बार समन दिए जाने की खबर है। बॉम्बे हाई कोर्ट में आर्यन खान की जमानत अर्जी पर सुनवाई के दौरान आर्यन के वकील पहले ही ऐसी किसी डील से इनकार कर चुके हैं।

नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो के साल 2016 से अब तक के आंकड़ों पर नजर डालें तो जून 2020 में अभिनेता सुशान्त सिंह राजपूत की संदिग्ध मौत में ड्रग्स एंगल आने के बाद ही नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो की कार्रवाई बढ़ी है।

साल 2016 में 33 मामले दर्ज हुए थे और 20 गिरफ्तारी हुई थी। जबकि साल 2017 में 30 केस और 38 गिरफ्तारी, साल 2018 में 25 केस और 55 गिरफ्तार, साल 2019 में 35 केस और 50 गिरफ्तार।

जबकि साल 2020 में मुम्बई एनसीबी ने 46 केस किये और 89 के करीब गिरफ्तारी की थी। लेकिन उसमें से सिर्फ एक केस एफआईआर नंबर 16/20 ही बॉलीवुड से जुड़ा था। अकेले 16/20 में ही 35 गिरफ्तारी हुई थी उसमे भी रिया चक्रवर्ती ही एकमात्र गिरफ्तार आरोपी थी जो बॉलीवुड से जुड़ी थी। बाकी सभी ड्रग्स सप्लायर, पैडलर, नौकर या दूसरे लोग थे। साल 2020 में इसके अलावां दूसरे एक केस में बॉलीवुड से कॉमेडियन भारती सिंह और उनके पति हर्ष लिम्बाचिया को भी गिरफ्तार किया गया था।

साल 2021 अब तक 108 केस हो चुके हैं और 230 के करीब आरोपी गिरफ्तार किए जा चुके हैं। लेकिन इसमें आर्यन केस को छोड़ दें तो दो ही और ऐसे मामले हैं जिनमे बॉलीवुड से जुड़ा कोई बड़ा नाम आया है।

एक अभिनेता अरमान कोहली और दूसरा एजाज खान का। आंकड़े बता रहे हैं कि बॉलीवुड नाहक ही बदनाम है। मुम्बई एनसीबी के जोनल डायरेक्टर समीर वानखेड़े खुद भी मीडिया से बातचीत में बॉलीवुड को निशाना बनाये जाने या फिर बॉलीवुड में ड्रग्स के जोर से इनकार करते रहे हैं।

दरअसल, फिल्म से जुड़े लोगों की एक अलग दुनिया है। नाइट पार्टी, म्यूजिक, नाचगाना कई बार उन्हें क्या, तमाम लोगों को लगता है कि स्वर्ग कहीं है, तो यहीं है, यहीं है लेकिन एनसीबी ने सुशांत सिंह की मौत के बाद बॉलीवुड की जो दुनिया दिखाई है, उसमें सफेद कपड़ों पर लगा दाग तमाम कोशिशों के बाद अभी लंबे समय तक मिटने वाला नहीं है।

 

मुंबई से सुनील सिंह

Leave a Reply

Your email address will not be published.