ब्रेकिंग न्यूज़ 

पाल भईया बसंती हो गए

पाल भईया बसंती हो गए

जग्गू भईया, यानी जगदंबिका पाल। जब बुलवाइए तभी बोलने को तैयार। बस माइक लगा दीजिए और बोलने की हसरत देख लीजिए। कांग्रेस से भाजपा में आए तब भी यही जलवा था। सुना है कुछ दिन पहले एक हिदायत मिल जाने के बाद आजकल चुप से हो गए हैं। लेकिन क्या करें होली आई तो रहा नहीं गया। गुझिया और गुलाल लेकर संसद भवन में घूमने लगे। जो मिला बस पाल जी। किरण खेर भी – बस पाल जी। करते-करते लोकसभा में गुलाल लगाए दाखिल हो गईं। आसन ने देखा तो आखें गुलाल होने लगी। लिहाजा फुसफुसाहट सुनकर बृजभूषण शरण आए। चुपके से कहा, भाई सदन से बाहर चलना चाहिए। बस फिर क्या था पाल साहब बाहर आ गए। अब कहें भी तो क्या-बुरा न मानो होली है।

полигон компанияlike-to-trade.ru

Leave a Reply

Your email address will not be published.