ब्रेकिंग न्यूज़ 

कानपुर के बाद बरेली में दंगा भड़काने की कोशिश, CM योगी हुए सख्त

कानपुर के बाद बरेली में दंगा भड़काने की कोशिश, CM योगी हुए सख्त

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के कानपुर शहर में दंगाइयों ने जमकर उत्पात मचाया। उसी तरह बरेली में भी 10 जून को दंगा भड़काने की तैयारी है। लेकिन सीएम योगी(CM Yogi Adityanath) ने पूरे मामले की कमान अपने हाथों में ले ली है। अब उत्पातियों की खैर नहीं है।

सीएम योगी ले रहे हैं पल पल की जानकारी

शुक्रवार के दिन प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी(PM Narendra Modi) और राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद(President Ramnath Kovind) दोनों ही कानपुर में मौजूद थे। पूरा प्रशासनिक अमला देश के इन दो बड़े नेताओं की सुरक्षा में व्यस्त था। लेकिन इसका फायदा दंगाइयों ने उठाया। जुमे की नमाज के बाद मजहबी कट्टरपंथी सड़क पर आ गए और पत्थरबाजी शुरु कर दी। पहले तो उन्होंने दुकानें बंद कराने की कोशिश की। लेकिन दुकानदारों ने ऐसा करने से मना कर दिया। जिसके बाद दंगाइयों ने पत्थरबाजी शुरु कर दी।

लेकिन कानपुर(Kanpur) के चकेरी एयरपोर्ट पर पीएम मोदी को विदा करने के बाद सीएम योगी एक्शन में आ गए। उन्होंने मुख्य सचिव दुर्गाशंकर मिश्र और डीजीपी डीएस चौहान को तलब कर लिया और उनसे हंगामे के बारे में बारीकी से जानकारी हासिल की। सीएम योगी ने अपर मुख्य सचिव अवनीश अवस्थी को फोन किया और कहा कि उन्हें दंगाइयों के खिलाफ की जा रही कार्रवाई की पल पल की जानकारी दी जाए।

दंगाइयों के खिलाफ गैंग्स्टर एक्ट

सीएम योगी ने डीजीपी डीएस चौहान को सख्त आदेश दिया है कि पत्थरबाजी करने वाले दंगाइयों की बारीकी से पहचान की जाए और उनके खिलाफ गैंग्स्टर एक्ट लगाया जाए। मुख्यमंत्री ने आदेश दिया है कि दंगा भड़काने वालों की संपत्ति जब्त करने की भी कार्रवाई की जाए और उनपर रासुका लगाया जाए।

सुरक्षा के सख्त इंतजाम

कानपुर के दंगाग्रस्त इलाकों में अतिरिक्त फोर्स भेजी जा रही है। सुरक्षा बलों की 12 कंपनियां और एक प्लाटून पीएसी(PAC) तैनात की गई है। अब तक तीन दर्जन से ज्यादा लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है।

शुक्रवार को जुमे की नमाज के बाद बवाल शुरु हुआ था। नमाज के बाद निकली भीड़ ने यतीमखाना इलाके की दुकानें बंद कराने की कोशिश की। लेकिन दुकानदारों ने इसका विरोध किया। जिसके बाद उत्पातियों ने पत्थरबाजी शुरु कर दी। लेकिन बाद में प्रशासन के हस्तक्षेप के बाद मामला संभाल लिया गया।

बरेली में भी हंगामे की तैयारी

उधर बरेली में भी दंगाइयों ने हंगामा करने की तैयारी कर रखी है। अगले जुमे यानी 10 जून को बरेली में मजहबी कट्टरपंथियों ने सड़क पर उतरने और धरना प्रदर्शन करने की चेतावनी जारी की है। 3 जून को जुमे की नमाज के बाद बरेली की मस्जिदों से ये ऐलान किया गया कि अगले जुमा यानी 10 जून को सभी लोग इस्लामिया ग्राउंड पहुंचे और आंदोलन करें।

क्यों हो रहा है हंगामा

बीजेपी प्रवक्ता नुपुर शर्मा(Nupur Sharma) ने पैगंबर मोहम्मद के खिलाफ एक टिप्पणी कर दी थी। जिसका बहाना लेकर मजहबी कट्टरपंथी देश को दंगे की आग में झोंक देना चाहते हैं। इन लोगों की मांग है कि नुपुर शर्मा को गिरफ्तार किया जाए। नुपुर शर्मा को सोशल मीडिया पर जान से मारने और गैंगरेप करने की धमकियां भी दी जा रही हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.