ब्रेकिंग न्यूज़ 

यूपी का बदला गुजरात में लेने की साजिश, आरोपी अकबर के निशाने पर थे सैकड़ो रेलयात्री

यूपी का बदला गुजरात में लेने की साजिश, आरोपी अकबर के निशाने पर थे सैकड़ो रेलयात्री

अहमदाबाद: गुजरात में गोधरा (Godhara kand) की तर्ज पर एक बार फिर से रेल यात्रियों को निशाना बनाने की साजिश रची गई थी। लेकिन पुलिस की सतर्कता से ये सफल नहीं हुई। बदमाशों के निशाने पर सैकड़ो रेल यात्री थे। अगर उनकी साजिश सफल हो जाती तो रेल दुर्घटना में सैकड़ो लोगों की मौत हो जाती। इस मामले में आरोपी अकबर हुक्के और इसुरा को गिरफ्तार कर लिया गया है।

यूपी के बुलडोजर का बदला लेने के लिए रची साजिश

उत्तर प्रदेश में दंगाइयों के खिलाफ योगी आदित्यनाथ(Yogi Adityanath) की सरकार लगातार कार्रवाई कर रही है। उनके घरों पर बुलडोजर चलाया जा रहा है। इससे नाराज होकर अकबर हुक्के नाम के एक बदमाश ने बेहद खतरनाक साजिश रची। उसकी योजना सफल हो जाती तो रेल दुर्घटना(Train Accident) में सैकड़ों की संख्या में यात्रियों के मारे जाने की आशंका थी।

लेकिन समय रहते पुलिस ने अकबर की साजिश को नाकाम कर दिया और उसे गिरफ्तार कर लिया है। 35 साल के अकबर के साथ इसुरा को भी गिरफ्तार किया गया है। इन दोनों से लगातार पूछताछ जारी है।

रेल दुर्घटना कराने की कोशिश

आरोपी अकबर हुक्के और इसुरा रेल ट्रैक पर पत्थर रखकर उसे दुर्घटनाग्रस्त कराने की साजिश कर रहे थे। इन लोगों ने मोरबी वांकानेर मेमू ट्रेन को निशाना बनाने की कोशिश की थी। इसके लिए उन्होंने रेलवे ट्रैक पर भारी पत्थर रख दिए थे। जिससे कि ट्रेन उन पत्थरों से टकराकर दुर्घटनाग्रस्त हो जाए।

लेकिन ट्रेन से उस जगह से गुजरने से पहले रेलवे के इंजीनियर ने ट्रैक पर लगा पत्थरों का ढेर देख लिया और ट्रेन को रुकवा लिया। बेहद कम समय के अंतर से दुर्घटना होने से बच गई। इसके बाद रेलवे के इंजीनियर ने रेल पुलिस में मामला दर्ज कराया। पुलिस ने जांच की तो पता चला कि इसके पीछे अकबर हुक्के नाम का आरोपी है। राजकोट रेल पुलिस ने तुरंत कार्रवाई करते हुए उसे गिरफ्तार कर लिया। इस मामले में एक महिला भी शामिल है। जिससे भी पुलिस पूछताछ कर रही है।

रेल पुलिस ने जानकारी दी है कि इस मामले में 12 जून को पुलिस के पास शिकायत दर्ज कराई गई थी। जिसके बाद जांच शुरु कर दी गई। पुलिस ने वांकानेर में दो आरोपियों को संदिग्ध हरकत करते हुए देखा। जिसके बाद उन लोगों से सख्ती से पूछताछ की गई। तब जाकर अकबर हुक्के ने सच उगला।

बड़े आतंकी संगठन का हाथ होने की आशंका

फिलहाल दोनों आरोपी रेल पुलिस की गिरफ्त में है। उनसे लगातार पूछताछ जारी है। इसके बाद इन आरोपियों को गुजरात एंटी टेररिस्ट स्क्वैड(Gujrat ATS) के हवाले कर दिया जाएगा। जो यह जानने की कोशिश करेगी कि इन आरोपियों के पीछे किसी आतंकवादी संगठन का हाथ तो नहीं है।

अभी तक कि पूछताछ में आरोपी अकबर हुक्के और इसुरा ने बताया है कि उत्तर प्रदेश(Uttar Pradesh) में जिस तरह से दंगे के आरोपियों के घर पर बुलडोजर चलाया गया, उससे वो बेहद नाराज था। इसी का बदला लेने के लिए उसने मासूम रेल यात्रियों को मारने की साजिश रची थी। आरोपी ने बताया कि उसके कई रिश्तेदार उत्तर प्रदेश में रहते हैं।

पुलिस को इस मामले में वांकानेर की रहने वाली एक महिला पर भी शक है। ये महिला पहले हैदराबाद में रहती थी लेकिन अब गुजरात आ गई है। पुलिस ने उससे भी पूछताछ की है।

ये भी पढ़िए- कश्मीर में छह महीने में 114 आतंकियों का खात्मा

Leave a Reply

Your email address will not be published.