ब्रेकिंग न्यूज़ 

असम में बाढ़ से स्थिति बेहद गंभीर, पूर्वोत्तर को मदद की आस

असम में बाढ़ से स्थिति बेहद गंभीर, पूर्वोत्तर को मदद की आस

गुवाहाटी: असम का राजधानी गुवाहाटी राजनीतिक कारणों से चर्चा में है। क्योंकि वहां महाराष्ट्र के बागी शिवसेना विधायक शरण लिए हुए हैं। लेकिन वास्तविकता ये है कि पूर्वोत्तर का राज्य असम इन दिनों बाढ़ की भीषण विभीषिका से जूझ रहा है। महाराष्ट्र के बागी विधायकों ने अपने शरणदाता राज्य की मदद करने का फैसला किया है।

लगातार हो रही हैं मौतें

पूरे असम में बाढ़ और बारिश से अब तक 140 से ज्यादा लोगों मौत हो चुकी है। बाढ़ से लगभग 25 लाख लोग प्रभावित हुए हैं। सबसे ज्यादा बाढ़ग्रस्त इलाका सिलचर है। जहां अब तक कई लोगों के मरने की खबर है। असम राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकरण ने बताया है कि बाढ़ में कई लोगों के लापता होने की भी खबर है। असम की बेकी, कोपिली समेत कई नदियां खतरे के निशान से ऊपर बह रही हैं। राज्य के 30 जिलों के लोग बाढ़ से बुरी तरह प्रभावित हुए हैं।

मुख्यमंत्री हेमंत बिस्व सरमा ने असम के बाढ़ प्रभावित इलाके बारपेटा का दौरा किया। हालांकि इसके लिए भी उन्हें बाढ़ में उतरना पड़ा। पानी के बीच हेमंत बिस्व सरमा का वीडियो देखने के लिए यहां क्लिक करें।

मुख्यमंत्री सरमा ने राहत शिविरों का दौरा किया। जहां बाढ़ और बारिश से बीमार लोगों के स्वास्थ्य की जांच चल रही है।

महाराष्ट्र के विधायकों ने की मदद

असम की राजधानी गुवाहाटी में महाराष्ट्र के बागी शिवसेना विधायक बहुत दिनों तक डेरा डाले रहे। इस दौरान असम बाढ़ की विभीषिका झेलता रहा। लेकिन अब बागी शिवसेना विधायकों ने अपने शरणदाता राज्य की मदद करने का फैसला किया है। एकनाथ शिंदे गुट के विधायकों ने असम में बाढ़ राहत के लिए 51 लाख रुपये दान करने का फैसला किया है। इस बात का जानकारी विधायक दल के नेता एकनाथ शिंदे ने ट्वीट के जरिए दी है। उन्होंने मराठी में लिखा है कि शिवसेना विधायकों और सहयोगियों ने बाढ़ प्रभावित लोगों की मदद के लिए असम के मुख्यमंत्री राहत कोष में 51 लाख रुपये का योगदान देने का फैसला किया है-

रेल सेवा बुरी तरह प्रभावित

असम में बाढ़ की वजह से रेल की पटरियों को बुरी तरह नुकसान पहुंचा है। जिसकी वजह से गुवाहाटी, सिलचर और अगरतला से चलकर विभिन्न शहरों में जाने वाली ट्रेनों को 15 जुलाी तक के लिए कैंसिल कर दिया गया है। कैंसिल की गई ट्रेनों की लिस्ट कुछ इस प्रकार हैं-
– 12504 अगरतला-बेंगलुरु कैंट
– 15626 अगरतला-देवघर
– 15641 सिलचर-न्यू तिनसुकिया
– 15642 न्यू तिनसुकिया-सिलचर
– 14620 फिरोजपुर कैंट-अगरतला
– 15625 देवघर-अगरतला
– 20501 अगरतला-आनंद विहार तेजस एक्सप्रेस
– 12503 बेंगलुरु कैंट-अगरतला
– 20502 आनंद विहार-अगरतला
– 14619 अगरतला-फिरोजपुर कैंट
– 14038 नई दिल्ली-सिलचर एक्सप्रेस
– 14037 सिलचर-नई दिल्ली एक्सप्रेस
– 15615/16 गुवाहाटी-सिलचर-गुवाहाटी एक्सप्रेस
– 15611 गुवाहाटी-सिलचर
– 15887/88 गुवाहाटी-बदरपुर-गुवाहाटी टूरिस्ट एक्सप्रेस
– 13173/74 सियालदह-अगरतला-सियालदह एक्सप्रेस (अगरतला और लामडिंग के बीच रद्द)
– 13175/76 सियालदह-सिलचर-सियालदह (सिलचर-लामडिंग के बीच रद्द)
– 12515/16 सिलचर-कोयंबटूर-सिलचर एक्सप्रेस (सिलचर-गुवाहाटी के बीच रद्द)
– 12507 तिरुवनंतपुरम-सिलचर एक्सप्रेस

ये भी पढ़ें- पूर्वोत्तर में बाढ़ लेकिन गर्मी से तप रही है दिल्ली 

Leave a Reply

Your email address will not be published.