ब्रेकिंग न्यूज़ 

मुस्लिम हैकर्स ने नूपुर शर्मा को बनाया निशाना

मुस्लिम हैकर्स ने नूपुर शर्मा को बनाया निशाना

अहमदाबाद: हमारा देश एक बड़े हमले से गुजर रहा है। ये हमला हमारी सायबर प्रॉपर्टी पर किया जा रहा है। भारत की 2000 से ज्यादा वेबसाइट को हैक किया गया है। इन हैकर्स के मुख्य निशाने पर भाजपा से निष्कासित नेता नूपुर शर्मा हैं।

फाइल फोटो

मलेशिया और इंडोनेशिया के हैकर शामिल

अहमदाबाद क्राइम ब्रांच ने जानकारी दी है कि मलेशिया और इंडोनेशिया के मुस्लिम हैकरों ने भारत के खिलाफ साइबर युद्ध शुरू कर दिया है। दो हैकर ग्रुप ड्रैगन फोर्स मलेशिया और हैक्टिविस्ट इंडोनेशिया दोनों ने भारत के खिलाफ साइबर युद्ध शुरू किया है। ये लोग नूपुर शर्मा विवाद की वजह से नाराज हैं। उनका मानना है कि नूपुर शर्मा ने इस्लाम के पैगंबर की शान में गुस्ताखी की है। इसकी सजा पूरे भारत को दी जानी चाहिए। इसलिए इन मुस्लिम हैकरों ने भारत की वेबसाइटों पर हमला करना शुरु किया है.

पूरी दुनिया के मुस्लिम हैकरों को इकट्ठा करने की कोशिश

ड्रैगन फोर्स मलेशिया और हैक्टिविस्ट इंडोनेशिया नाम के ये हैकर ग्रुप पूरी दुनिया के मुस्लिम हैकरों से अपील कर रहे हैं कि वो भारत के खिलाफ सायबर युद्ध छेड़ दें। अहमदाबाद साइबर क्राइम ब्रांच की जांच में पता चला है कि इन दोनों हैकर्स ग्रुप्स ने 2 हजार से ज्यादा वेबसाइट हैक की हैं। इन लोगों ने नूपुर शर्मा को नुकसान पहुंचाने के लिए उनकी कई जानकारियों ऑनलाइन लीक की हैं। इन लोगों ने नूपुर शर्मा के घर का एड्रेस और उनके पर्सनल डिटेल ऑनलाइन कर दिए हैं।

फाइल फोटो

पिछले दिनों असम के एक क्षेत्रीय चैनल के लाइव टेलीकास्ट के दौरान पाकिस्तान का झंडा दिखाया गया था। वह भी इन्हीं हैकर्स का काम था। यही नहीं इन हैकर्स ने ठाणे पुलिस की वेबसाइट भी हैक कर ली थी और आंध्र प्रदेश पुलिस के लोगों का पर्सनल डिटेल सार्वजनिक कर दिया था। कई लोगों के आधार कार्ड और पैनकार्ड भी ऑनलाइन लीक किए गए हैं। हालांकि ये हैकर अभी तक कोई बड़ा नुकसान नहीं पहुंचा पाए हैं। लेकिन इनकी कोशिशें लगातार जारी हैं।

मलेशिया और इंडोनेशिया सरकार को जानकारी दी गई

ड्रैगन फोर्स मलेशिया और हैक्टिविस्ट इंडोनेशिया इन दोनों हैकर ग्रुप के बारे में अहमदाबाद साइबर क्राइम शाखा ने मलेशिया और इंडोनेशिया सरकार को चिट्ठी लिकी है। जिसमें दोनों ग्रुप के लिए इंटरपोल लुकआउट नोटिस का जिक्र किया है। इन दोनों देशों की सरकार से गुजारिश की गई है कि वो अपने यहां मौजूद इन हैकर्स के खिलाफ सख्त कार्रवाई करें।

ये भी पढ़िए- नूपुर नवीन को तो सजा दे दी, कट्टरपंथियों को कब मिलेगी सजा

ये भी पढ़िए-नूपुर शर्मा के समर्थन में एकजुट हिंदू जनता

Leave a Reply

Your email address will not be published.