ब्रेकिंग न्यूज़ 

मॉनसून सत्र के पहले दिन पीएम मोदी का भाषण और उप-राष्ट्रपति पद के लिए धनखड़ का नामांकन

मॉनसून सत्र के पहले दिन पीएम मोदी का भाषण और उप-राष्ट्रपति पद के लिए धनखड़ का नामांकन

नई दिल्ली: सोमवार यानी 18 जुलाई से संसद का मॉनसून सत्र शुरु हो गया है। पहले दिन प्रधानमंत्री मोदी ने देश के सभी सांसदों से अपील की है कि वह सत्र का यथासंभव उपयोगी और उत्पादक बनाएं।

‘ससंद के अंदर गर्मी कम होगी या नहीं’

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को आशंका है कि संसद का मॉनसून सत्र हंगामेदार हो सकता है। इसीलिए उन्होंने विशेष तौर पर कहा कि ‘यह सत्र मौसम से जुड़ा हुआ है। ऐसे में दिल्ली में भी वर्षा अपना दस्तक देना प्रारंभ कर रही है फिर भी न बाहर की गर्मी कम हो रही है और पता नहीं कि अंदर गर्मी कम होगी कि नहीं होगी। यह कालखंड एक प्रकार से बहुत महत्वपूर्ण है। यह आजादी के अमृत महोत्सव का कालखंड है।’

पीएम मोदी ने सभी राजनीतिक दलों के सांसदों से संसद का सर्वाधिक उपयोग करने का अनुरोध किया और कहा कि ‘वे खुले मन से विभिन्न विषयों पर चर्चा और वाद विवाद करें तथा जरूरत पड़े तो आलोचना भी करें ताकि नीति और निर्णयों में बहुत ही सकारात्मक योगदान मिल सके।
प्रधानमंत्री ने कहा कि ‘सब के प्रयासों से ही सदन चलता है, इसलिए सदन की गरिमा बढ़ाने के लिए हम सब अपने कर्तव्यों का निर्वाह करते हुए इस सत्र का राष्ट्रहित में सर्वाधिक उपयोग करें। सदन संवाद का एक सक्षम माध्यम होता है और वह उसे ‘‘तीर्थ क्षेत्र’’ मानते हैं जहां खुले मन से, वाद-विवाद हो और जरूरत पड़े तो आलोचना भी हो। उत्तम प्रकार की समीक्षा करके चीजों का बारीकी से विश्लेषण हो ताकि नीति और निर्णयों में बहुत ही सकारात्मक योगदान मिल सके। मैं सभी सांसदों से यही आग्रह करूंगा कि गहन चिंतन और उत्तम चर्चा करें ताकि सदन को हम अधिक से अधिक सार्थक तथा उपयोगी बना सकें।’

संसद का मॉनसून सत्र 12 अगस्त तक चलने वाला है।

मॉनसून सत्र की शुरुआत में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का पूरा भाषण देखने के लिए यहां क्लिक करें-

उप-राष्ट्रपति पद के लिए धनखड़ का नामांकन

राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में संसद के मॉनसून सत्र को लेकर भारी गहमागहमी है। देश के विभिन्न इलाकों से सांसद नए सत्र में हिस्सा लेने के लिए पहुंच चुके हैं। इस बीच राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन की तरफ से उप-राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार पश्चिम बंगाल के पूर्व राज्यपाल और भाजपा नेता जगदीप धनखड़ ने अपना नामांकन दाखिल कर दिया है।

इस दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, गृह मंत्री अमित शाह, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी, भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा और अन्य भाजपा नेता मौजूद रहे। छह अगस्त को उपराष्ट्रपति पद के लिए चुनाव होना है। इसके लिए नामांकन की आखिरी तिथि 19 जुलाई है।

जगदीश धनखड़ के नामांकन का वीडियो देखने के लिए यहां क्लिक करें-

धनखड़ के सामने विपक्ष ने मार्गरेट अल्वा को उतारा है। कांग्रेस के नेतृत्व में विपक्षी दलों ने रविवार को अपने प्रत्याशी के नाम का एलान कर दिया। एनसीपी चीफ शरद पवार ने मार्गरेट अल्वा के नाम का एलान किया। इससे पहले एनसीपी अध्यक्ष शरद पवार के घर पर विपक्षी दलों की बैठक हुई। इसमें उपराष्ट्रपति पद के उम्मीदवार के नाम पर चर्चा हुई। इसके बाद अल्वा के नाम का एलान किया गया।

संसद में मॉनसून सत्र के पहले दिन देश का राष्ट्रपति चुनने के लिए मतदान हुआ। इसकी झलकियां देखने के लिए यहां क्लिक करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published.