ब्रेकिंग न्यूज़ 

बिहार में जंगलराज का ट्रेलर, गृह राज्यमंत्री ने जारी की अपराधों की लिस्ट

बिहार में जंगलराज का ट्रेलर, गृह राज्यमंत्री ने जारी की अपराधों की लिस्ट

पटना: बिहार में जब भी राष्ट्रीय जनता दल किसी भी तरह से सत्ता में आता है, अपराधियों का मनोबल बढ़ जाता है। इस बार भी कुछ ऐसा ही दिख रहा है। गृह राज्य मंत्री नित्यानंद राय द्वारा दी गई जानकारी के मुताबिक बिहार में लालू के लाल तेजस्वी यादव के उप मुख्यमंत्री की कुर्सी संभालने के बाद अपराध का ग्राफ तेजी से बढ़ा है।

नित्यानंद के आरोप

गृह राज्य मंत्री नित्यानंद राय ने बिहार के विभिन्न हिस्सों में हुए अपराध की सूची जारी की है। उन्होंने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से सवाल किया है कि क्या उन्होंने अपराध की घटनाओं को बढ़ाने के लिए राजद के साथ गठबंधन किया है।

नित्यानंद राय ने लिखा है कि ‘एक तरफ जनता दल यूनाइटेड के राष्ट्रीय जनता दल की गोद में बैठने के बाद महागठबंधन आया, तो उसके साथ बिहार में महागठबंधन का गुंडाराज आया. विभिन्न जगहों से बलात्कार, लूट और अपराध की खबरें आने लगी हैं. इसलिए नीतीश कुमार राजद के साथ गए? जवाब दें’

बिहार में अपराध बढ़ने का कारण क्या है कोई नहीं बता पा रहा है। लेकिन राजधानी पटना सहित अपराधी बेखौफ होकर वारदातों को अंजाम देने में जुट गए हैं। यह बात बिल्कुल सच है।

टोयोटा शोरुम में लूट

बिहार की राजधानी पटना के सिटी इलाके में टोयोटा के शो रूम (Toyota showroom) में बदमाशों ने गार्ड को बंधक बनाकर लगभग 25 लाख रुपये लूट लिया। अपराधी इतने बेखौफ थे कि घटना का विरोध करने पर उन्होंने एक गार्ड की चाकू गोदकर हत्या भी कर दी।

यह घटना दीदारगंज थाना क्षेत्र के टोल प्लाजा के पास स्थित बुद्धा टोयटा शो रूम की है। मौके पर पहुंची पुलिस ने मृतक के शव को अपने कब्जे में ले लिया। जबकि दूसरे घायल को इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

नीतीश कुमार जिस दिन तेजस्वी यादव के साथ सरकार बनाने की योजना तैयार कर रहे थे। ठीक उसी दिन यानी मंगलवार 9 अगस्त की देर रात एक दर्जन से अधिक बदमाश शो रूम के पीछे से दीवार फांद कर अंदर घुस आए और शीशा तोड़कर दफ्तर में प्रवेश कर गए। बदमाशों ने वहां से लगभग 25 लाख रुपये लूट लिए।

जमुई में पत्रकार की हत्या

जमुई जिले के सिमुलतला थाना क्षेत्र के गोपला मारण गांव के समीप दिनदहाड़े तीन हथियारबंद बदमाशों ने एक दैनिक अखबार के पत्रकार गोकुल कुमार की गोली मारकर हत्या कर दी। हत्यारों ने पांच गोलियां चलाईं। अपराधियों का गैंग काफी समय से गोकुल कुमार के वहां से गुजरने का इंतजार कर रहा था।

मृतक के पिता नागेन्द्र यादव ने कहा कि पंचायत चुनाव की रंजिश के कारण उसकी हत्या की गई है। दरअसल गोकुल कुमार ने इस बार पंचायत चुनाव में अपनी पत्नी को मुखिया पद के लिए प्रत्याशी बनाया था जो विरोधियों को नागवार गुजरा। नाराज होकर उन्होंने इस घटना को अंजाम दिया।

सिमुलतला के थानाअध्यक्ष विद्यानंद कुमार ने बताया कि गोली चलने की सूचना मिलते ही वो घटनास्थल पर पहुंचे और तुरंत घायल पत्रकार को सदर अस्पताल ले जाया गया। लेकिन गंभीर रुप से घायल गोकुल कुमार ने वहां दम तोड़ दिया। इस मामले में दो लोगों को गिरफ्तार किया गया है। परिजनों ने जिन लोगों पर आशंका जतायी है, उनकी गिरफ्तारी को लेकर छापेमारी जारी है। घटनास्थल से कई खोखे बरमाद किए गए हैं।

मृतक के पिता ने बताया कि जब उसके बेटे को गोली मारकर कुछ लोग भाग रहे थे तो उनकी पहचान अपराधी बीरबल सहित अन्य लोगों के रूप में की गई। बदमाशों की धरपकड़ के लिए जगह-जगह छापेमारी की जा रही है।

ये भी पढ़िए- नीतीश कुमार की कथनी और करनी में इतना फर्क क्यों है

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.