ब्रेकिंग न्यूज़ 

गृह मंत्रालय ने यूपी के दो स्थानों के नाम में बदलाव को दी मंजूरी

गृह मंत्रालय ने यूपी के दो स्थानों के नाम में बदलाव को दी मंजूरी

गृह मंत्रालय नाम परिवर्तन के प्रस्तावों पर संबंधित एजेंसियों के परामर्श के बाद मौजूदा दिशानिर्देशों के अनुसार विचार करता है।

उत्तर प्रदेश सरकार की सिफारिशों के बाद केन्द्रीय गृह मंत्रालय ने राज्य के दो प्रमुख जिलों के स्थानों के नाम बदलने पर अपनी सहमति दे दी है। अधिकारियों ने मंगलवार को यह जानकारी देते हुए कहा कि मंत्रालय द्वारा इस संदर्भ में एक अनापत्ति पत्र(एनओसी) जारी कर दिया गया है। एक अधिकारी ने बताया कि गोरखपुर जिले में नगर पालिका परिषद ‘मुंडेरा बाजार’ का नाम बदलकर ‘चौरी-चौरा’ और वहीं देवरिया जिले के ‘तेलिया अफगान’ गांव का नाम बदलकर ‘तेलिया शुक्ला’ करने की कवायद की जा रही थी। बता दें की गृह मंत्रालय नाम परिवर्तन के प्रस्तावों पर संबंधित एजेंसियों के परामर्श के बाद मौजूदा दिशानिर्देशों के अनुसार विचार करता है।

एक अन्य अधिकारी ने बताया कि गृह मंत्रालय किसी भी स्थान का नाम बदलने के लिए रेल मंत्रालय, डाक विभाग और भारतीय सर्वेक्षण विभाग से सहमति लेने के बाद ‘अनापत्ति’ प्रमाणपत्र देता है। किसी गांव, कस्बे या शहर का नाम बदलने के लिए कार्यकारी आदेश की आवश्यकता होती है। अधिकारी ने कहा कि किसी राज्य का नाम बदलने के लिए संसद में साधारण बहुमत के साथ संविधान में संशोधन की आवश्यकता होती है।

बता दें की चौरी-चौरा कांड के कुल सौ वर्ष पुरे होने पर इतिहास के गलतियों को दुरुस्त करने के संदर्भ में कई स्थानों के नामों को संसोधित किया जा रहा है। इसी कारण से मुंडेरा बाजार का नाम बदलकर चौरी-चौरा तथा देवरिया के तेलिया अफगान का नाम बदलकर तेलिया शुक्ला रखने का प्रस्ताव रखा गया। जिसके लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भी प्रस्ताव पर सहमति जताई थी।

जहां एक तरफ सरकारी भवनों पर तेलिया अफगान लिखा रहता है, वहीं दूसरी ओर आम लोग इसे तेलिया शुक्ल के नाम से भी जानते हैं। बीते दो सालों से इसका नाम बदलने की बात रखी जा रही थी।

लेखक- सात्विक उपाध्याय

Leave a Reply

Your email address will not be published.