ब्रेकिंग न्यूज़ 

पैरों का जादूगर – लियोनेल मेसी

पैरों का जादूगर – लियोनेल मेसी

“मुझे बेहतरीन हेयर स्टाइल या बेहतरीन बाॅडी की जरुरत नहीं है। आप बस मुझे मेरे पैरों पर एक गेंद दो और मैं तुम्हें दिखाऊंगा कि मैं क्या कर सकता हूं”।         – लियोनेल मेसी

 

वर्तमान में फुटबाल जगत के सबसे बड़े सितारों में शामिल नामों में से एक का नाम आज भूले नहीं भूलता । जिसे हम पैरों के जादूगर के नाम से जानते हैं । जी हां वो कोई और नहीं सबके दिलों पर राज करने वाले ‘लियाेनेल मेसी” हैं।

मेसी- वह नाम जिसका  जन्म रोसारियो, अर्जेंटीना के एक वर्किंग क्लास परिवार में हुआ। इनके पिता जोर्ज मेसी एक फैक्ट्री में वर्कर थे, एवं उनकी माता सेलिया एक क्लीनर की तरह पार्ट – टाइम काम किया करती थीं। उनकी एक गर्लफ्रेंड एंटोनेला रोक्कुजो है जिससे उनके कई साल सम्बन्ध रहे। उनसे उन्हें 2 बच्चे भी हुए जिनमे से एक थियगो है, इसका जन्म 2 नवंबर, 2012 को हुआ और दूसरा मटियो है, इसका जन्म 11 सितंबर, 2015 को हुआ। मेसी ने अपनी गर्लफ्रेंड एंटोनेला रोक्कुजो से कई साल संबंध रखने के बाद पिछले साल यानि 2017 को शादी की। इनके दोनों बच्चों का जन्म इनकी शादी से पहले ही हो गया था।

लियोनेल मेसी का शुरूआती जीवन

लियोनेल ने बहुत कम उम्र में खेलना शुरू कर दिया था, और उनकी प्रतिभा खेल में स्पष्ट दिखने लगी। शुरुआती दौर में उनके कोच उनके पिता हुआ करते थे, उन्होंने मराडोना के फुटबाल के गेम और स्किल्स को देख ही मेसी को फुटबॉल खेलने के लिए प्रेरित किया। हालाँकि 11 साल की उम्र में मेसी को उनके जीवन के सबसे काले दिनों में से एक से गुजरना पड़ा ।

उस वक्त उन्हें  ग्रोथ हार्मोन डेफिशियेंसी (जीएचडी) बीमारी का सामना करना पड़ा। उस समय उनकी स्थिति ऐसी थी कि उनका विकास अच्छे से नहीं हो पा रहा था, जिसके लिए उन्हें महंगा मेडिकल इलाज करवाने की आवश्यकता पड़ी। इसके साथ ही उन्हें मानव विकास हार्मोन दवाओं का सेवन भी करना पड़ा। इस दौर में उन्हें बेहद प्रतिभाशाली खिलाड़ी होने के बावजूद भी स्थानीय क्लब द्वारा उनके इलाज के लिए भुगतान करने के लिए कोई सहायता नहीं दी गई। मेसी को बार्सिलोना के साथ एक ट्रायल दिया गया था, और कोच चार्ल्स रेक्साच उनसे बहुत प्रभावित हुए। उन्होंने मेसी को एक पेपर नैपकिन में कॉन्ट्रैक्ट लिखकर ऑफर किया, जिसमें स्पेन में मेसी के इलाज के लिए भुगतान शामिल था। इसके बाद वे अपने पिता के साथ बार्सिलोना चले गये और प्रतिष्ठित एफसी बार्सिलोना युवा अकादमी का हिस्सा बन गए।

जादूगर लियोनेल मेसी का करियर:-

मेसी का करियर किक साल 2000 में शुरू हुआ, जब वे जूनियर सिस्टम रैंक के लिए खेला करते थे। एक छोटी अवधि के अंदर, वे एकमात्र ऐसे खिलाड़ी बन गए, जिन्होंने 5 अलग – अलग टीमों में खेला। मेसी की रैंक के माध्यम से प्रगति होने लगी, और सन 2004-05 सीजन में उन्होंने अपनी पहली उपस्थिति दी, जब वे एक लीग गोल स्कोर करने के लिए सबसे कम उम्र के खिलाड़ी बने। सन 2006 में मेसी डबल जीतने वाली टीम का हिस्सा बने, जिसने ला लीगा स्पेनिश लीग और चैंपियंस लीग दोनों में जीत हासिल की थी। अगले सीजन सन 2006-07 में केवल 20 वर्ष की उम्र में स्ट्राइकर और बार्सिलोना टीम का एक अनिवार्य हिस्सा बनने के लिए ये लोगों की पहली पसंद बन गए। उन्होंने 26 लीग खेलों में 14 गोल किये। साल 2009–10 में मेसी ने सभी कॉम्पीटिशन्स में 47 गोल किये, जोकि बार्सिलोना के लिए रोनाल्डो के रिकॉर्ड के बराबर था। जैसे – जैसे सीजन आगे बढ़ता गया, मेसी ने अपने खुद के रिकॉर्ड बनाये और उसे तोड़ना शुरू कर दिया।

कैलेंडर वर्ष 2012 में, उन्होंने सबसे अधिक गोल किये जाने का ऑल – टाइम विश्व रिकॉर्ड तोड़ दिया। साल 2012 में उनके द्वारा किये गए कुल गोल 91 थे, जिसने जर्मन के गेर्ड मुलर द्वारा बनाये गये 85 गोल और पेले द्वारा बनाये गये 75 गोल के रिकॉर्ड को पीछे छोड़ दिया। साल 2012 के अंत में, मेसी को एक अज्ञात नाम से रूस की ओर से खेलने के लिए एक आकर्षक प्रस्ताव दिया गया। जिसके लिए उन्हें एक साल में 20 मिलियन यूरो का वेतन दिया जाना था, जोकि मेसी को विश्व का सबसे महंगा खिलाड़ी बनाता है। किन्तु उन्होंने यह प्रस्ताव ठुकरा दिया, क्योंकि वे इस बात से अनिश्चित थे कि यदि वे प्रमुख यूरोपियन चैंपियनशिप के लिए खेलते हैं तो रूस जाने में कठिनाइयाँ होंगी। इसलिए इसके बजाय उन्होंने सन 2018 के अंत तक बार्सिलोना के साथ खेलने के एक कॉन्ट्रैक्ट पर हस्ताक्षर कर दिए। इंग्लिश प्रीमियर लीग में जाने के बारे में उनसे पूछे जाने पर उन्होंने यह खुलासा किया कि उनमे बार्सिलोना के प्रति कमिटमेंट की भावना है। सन 2013 की शुरुआत में, क्लब फुटबॉल में, मेसी ने कुल 359 उपस्थितियों में 292 गोल किये और अंतर्राष्ट्रीय फुटबॉल में 76 उपस्तिथियों में 31 गोल किये। 2014 विश्वकप में अच्छे पर्फार्मेंस ना होने के कारण मेसी ने जून 2016 में अपने रिटायरमेंट की घोषणा कर दी जो उस वक्त सभी के लिए एक अचंभित करने वाला फैसला था । उस समय मेसी को समाज के अलग अलग प्रश्नो को झेलना पड़ा । परन्तु वर्ष 2018 में मेसी ने अपनी वापसी का एलान कर अपने सभी प्रशंसको के लिए एक बहुत ही अच्छी खबर सुनाई ।

वर्ष 2019 और 2022 में फोर्ब्स द्वारा दुनिया के सबसे अधिक कमाई करने वाले एथलीट का स्थान दिया गया था। फरवरी 2020 में उन्हें लारियस वर्ल्ड स्पोर्ट्समैन आॅफ दी ईयर से सम्मानित किया गया । मेसी ने स्पेनिस लीग के तीन , स्पेनिस कप 1 , UEFA चैंपियन लीग 2 , फीफा कल्ब विश्व कप 1 , फीफा विश्व कप 1 , ओलंपिक स्वर्ण पदक 2008 में , कोपा अमेरिका कप 2021 में अपने तथा अपने टीम के नाम किया है।

मेसी वह नाम जो खुद में ही काफी है, परन्तु फैंस के प्यार के बाद उन्हें कई नामों से जाना जाने लगा । जी हां मेसी को लियो , एटामिक फ्ली , ला पुग्ला , एटोमिका , मेस्सिडोना आदी नामों से जाना जाने लगा। मेसी जो की एक स्टार फारवर्ड खिलाड़ी हैं, जिन्होंने वैसे तो कई जर्सी के साथ मैचें खेले परन्तु  मेसी को सबसे ज्यादा प्रचलित उनकी 10 नम्बर की जर्सी ने बनाया । आज विश्व के हर कोने में मेसी के 10 नम्बर जर्सी की बहुत ही ज्यादा बिक्री है।

मेसी वर्तमान में पुर्तगाल के क्रिस्टियानो रोनाल्डो के बाद विश्व के दुसरे ऐसे खिलाड़ी है जिनकी फैंन फालोइंग सबसे ज्यादा है। रोनाल्डो के 500 मिलियन फालोवर इंस्टाग्राम पर हैं , ठिक उनके बाद मेसी के कुल फालोवरों की संख्या कुल 401 मिलियन है।

मेसी का तरीका

मेसी को ऐसे ही पैरों का जादूगर नहीं कहा जाता ,जी हां बता दे की मेसी ने अपने पैरों का करतब कैसे दिखाया – मेसी ने बाएं पैर से कुल 496 गोल किया, दाएं  पैर से उन्होंने 78 , सिर से 24, अन्य तरीकों से 2, पेनाल्टिस में 77 , डायरेक्ट फ्री किक में कुल 39, बाक्स के अंदर से 504 , तथा बाक्स के बाहर से कुल मिलाकर मेसी ने 96 गोल किये हैं। मेसी के वर्तमान में कुल 793 गोल हैं जो की अपने आप में ही एक अद्भुत कीर्तिमान है।

लियोनेल मेसी की नेट वर्थ-

मेसी को कई बार बड़े बजट के साथ अन्य फुटबॉल क्लबों द्वारा टारगेट किया गया है ताकि वे उनकी ओर से खेलें। लेकिन वे बार्सिलोना एफसी के साथ हमेशा वफादार रहे हैं। वह दुनिया के सबसे ज्यादा भुगतान करने वाले फुटबॉलरों में से एक हैं। ऐसा अनुमान लगाया जा रहा है कि सन 2018 में इनका मूल वेतन 16 मिलियन यूरो है। और उनकी नेट वेल्थ 110 मिलियन यूरो है। इससे यह पता चलता है कि महान फुटबॉलर खिलाड़ी क्रिस्टियानो रोनाल्डो और बास्केट बॉल खिलाड़ी लेबोर्न जेम्स के बाद मेसी दुनिया के दूसरे सबसे ज्यादा भुगतान वाले सॉकर खिलाड़ी और तीसरे सबसे ज्यादा भुगतान वाले एथलिट हैं। इन्हें सबसे अच्छा फुटबॉल खिलाड़ी माना जाता है इसके चलते वे कुछ कंपनियों जैसे एडिडास, पेप्सी, ईए स्पोर्ट्स और तुर्की एयरवेज़ के समर्थन के साथ सॉकर का कमर्शियल चेहरा बन गए हैं।  खेल जगत में जिस प्रकार क्रिकेट में सचिन को भगवान माना जाता है ठीक उसी प्रकार मेसी को भी अगर हम फुटबाल जगत का बाजीगर कहें तो वह किसी भी लहजे में गलत नहीं माना जाएगा। जीवन में तमाम संघर्ष झेलने के बाद इस मुकाम को हासिल करना मेसी के लिए बहुत ही बड़ी उप्लब्धि है ।

कहतें हैं ना – ‘सफलता कभी भी शरीर या कद देख कर नहीं मिलती , उसे खुद उसके लिए उस काबिल बनना पड़ता जिससे कामयाबी उसके साथ चले”।

अरूण सात्विक उपाध्याय

Leave a Reply

Your email address will not be published.