ब्रेकिंग न्यूज़ 

बिहार स्टाफ सेलेक्शन कमीशन परीक्षा रद्द करने को लेकर छात्र कर रहे थे बवाल, पुलिस ने किया लाठीचार्ज

बिहार स्टाफ सेलेक्शन कमीशन परीक्षा रद्द करने को लेकर छात्र कर रहे थे बवाल, पुलिस ने किया लाठीचार्ज

बिहार एसएससी की परीक्षा परीक्षा को लेकर बवाल कप रहे छात्रों पर पटना में एकबार फिर पुलिस ने लाठियां बरसाई है। बीएसएससी परीक्षा रद्द करने की मांग कर रहे थे छात्र को पुलिस ने दौड़ा-दौड़ा कर पीटा है।

बता दें कि बिहार में पेपर लीक का मामला फिर गरमा गया है। हाल ही में हुए परीक्षा में पेपर लीक के बाद परीक्षा रद्द करने की मांग को लेकर बुधवार को छात्रों ने पटना में भारी मात्रा में प्रदर्शन किया। बुधवार की सुबह छात्रों ने पटना के डाकबंगला चौराहे को जाम कर दिया।

इसके बाद बीएसएससी सीजीएल पेपर लीक के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे अभ्यर्थियों पर पुलिस  ने जमकर लाठियां बरसाई।  प्रदर्शनकारियों को पुलिस ने दौड़ा- दौड़ा कर पीटा। पुलिस ने डाक बंगला चौराहा से प्रदर्शनकारियों को लाठियां बरसा कर खदेड़ दिया। पहले तो पुलिस ने छात्रों को समझा बूझा कर हटाने कि कोशिश की, तथा ना मानने पर पुलिस ने लाठीयां चलाना शुरु कर दी।

बता दें कि छात्र बिहार कर्मचारी चयन आयोग द्वारा ली गई सचिवालय सहायक की परीक्षा रद्द करने की मांग कर रहे हैं। अपनी मांग को लेकर अभ्यर्थियों का विशाल हुजूम बुधवार को सड़क पर उतरा था। बीएसएससी की परीक्षा रद्द करने की मांग को लेकर हजारों की संख्या में उतरे अभ्यर्थियों में लड़कियां भी शामिल थीं। अभ्यर्थियों ने इस दौरान नीतीश सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। बता दें की परीक्षा 23-24 दिसंबर को हुई थी। परीक्षा शुरु होने के एक घंटे बाद ही पेपर लीक हो गया था। जिसके चलते पहली पाली की परीक्षा को रद्द कर दिया गया। छात्रों ने कहा कि वे बाकि तीन पालियों की हुई परीक्षा को रद्द कराने को लेकर धरना कर रहे हैं। 

छात्रों पर पुलिस की लाठी चार्ज के बाद अफरा-तफरी की स्थिति उत्पन्न हो गयी। छात्र पुलिस की लाठियों से बचने के लिए इधर उधर भागने लगे। जिसके बाद कुछ छात्र घायल हो गये हैं। इधर पुलिस ने कुछ छात्रों को हिरासत में लिया है।

इस पुरे घटना क्रम के बाद टाउन डीएसपी अशोक कुमार ने कहा है कि अभ्यर्थियों को शांतिपूर्ण ढंग से मांग रखने का मौका दिया गया था लेकिन छात्रों ने सुरक्षा घेरा को तोड़ते हुए पुलिस पर हमला कर दिया जिसके बाद पुलिस ने छात्रों पर हल्का बल प्रयोग किया है।

 

Written by- Satvik Upadhyay

Leave a Reply

Your email address will not be published.