ब्रेकिंग न्यूज़ 

एयर लाइन पेशाब मामला : एयर इंडिया पर 30 लाख का जुर्माना, 3 माह के लिए पायलट- इन- कमान का लाइसेंस रद्द

एयर लाइन पेशाब मामला : एयर इंडिया पर 30 लाख का जुर्माना, 3 माह के लिए पायलट- इन- कमान का लाइसेंस रद्द

26 नवंबर 2022 को कथित तौर पर एयर इंडिया के एक विमान में महिला के उपर नशे में पेशाब करने का मामला सामने आया था। जो कि कई दिनों से चर्चा में है। इस घटना के बाद पेशाब करने वाले व्यक्ति पर कार्यवाही की गई तथा उसे गिरफ्तार कर लिया गया। साथ ही बता दें कि डीजीसीए द्वारा विमान पर भी कार्यवाही की गई थी जिसमें विमान के कई अफसरों को भी घेरे में लिया गया था।   बता दें कि एयर इंडिया  पेशाब कांड में डीजीसीए ने बड़ी कार्रवाई की है। इस बेहद नाजुक मामले को संज्ञान मेंं लेते हुए  एविएशन रेगुलेटर ने एयर इंडिया पर 30 लाख रुपए का फाइन लगाया है। डीजीसीए ने यह कार्रवाई विमान  नियमों के उल्लंघन करने के लिए की है।  इतना ही नहीं जांच प्रक्रिया के बाद  फ्लाइट में पायलट-इन-कमांड का लाइसेंस भी तीन महीने के लिए सस्पेंड कर दिया है।  डीजीसीए ने तीन लाख रुपए का फाइन डायरेक्टर-इन-फ्लाइट सर्विस पर भी लगाया है। पिछले साल नवंबर में न्यूयॉर्क-दिल्ली फ्लाइट पर एक यात्री पर पेशाब करने वाले एयर इंडिया के यात्री शंकर मिश्रा को एयरलाइन से चार महीने के लिए  किसी भी हवाई सेवा से प्रतिबंधित कर दिया गया है।

एयरलाइन की तरफ से साथ ही कहा गया था कि मंत्रालय से कंसल्टेशन के बिना एयर इंडिया अपने बलबूते किसी भी यात्री पर नियमों के उल्लंघन के लिए सिर्फ 30 दिनों का कड़ा  प्रतिबंध लगा सकती है। गुरुवार को  एयरलाइन  ने पेशाब कांड के संबंध में एक आंतरिक रिपोर्ट पेश की है, जिसमें कई चौंका देने वाले खुलासे सामने आए हैं।

बता दें कि लगभग एक माह पहले हुए इस घटना के बाद अपराधी यात्री शंकर मिश्रा को पुलिस ने गिरफ्तार किया था , जिसके बाद से ही वह अपने निर्दोष होने की बात कह रहा है। पीड़ित महिला द्वारा इस मामले में शिकायत दर्ज कराने के बाद अपराधी यात्री शंकर मिश्रा की तलाश पुलिश कर रही थी। शंकर मिश्रा के पकड़े जाने के बाद उनपर 4 महिने का  हवाई यात्रा का बैन लगा दिया है।  साथ ही पकड़े जाने के इतने दिन बाद भी शंकर मिश्रा को बेल नहीं मिली है।

वकील के  चौंका देने वाले दावे

कथित तौर पर महिला पर पेशाब करने के मामले में बचाव पक्ष के वकील ने दलिल  दिया तथा  इस बात का दावा किया कि उनके क्लाइंट ने महिला पर पेशाब नहीं किया।  बल्कि महिला  ने खुद पेशाब किया।  महिला को यूरीन इनकॉन्टिनेंस की शिकायत का दावा करते हुए वकील ने कहा कि यह कथक डांसर में आम बात है।  हालांकि क्रू मेंबर के अनऑफिशियल अकाउंट से पता चलता है कि शंकर मिश्रा के बगल में बैठा यात्री घटना के बाद  क्रू के पास पहुंचा और बताया कि शंकर मिश्रा ने महिला पर पेशाब कर दिया है लेकिन इस बात की पुष्टी करने पहुंची क्रू टीम जब वहां पहुंची तो  देखा की उस  वक्त  शंकर मिश्रा सो रहा था और जब उसे मामले के बारे में बताया गया, तो वह हैरान हो गया था।

लेखक- सात्विक उपाध्याय

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.