ब्रेकिंग न्यूज़ 

बिन पतवार के मांझी

बिन पतवार के मांझी

एक तो दशरथ मांझी हैं और दूसरे जीतन राम मांझी। दशरथ ने पहाड़ काटकर सड़क बना डाली गजब के जीवट वाले निकले। जीतन राम भी उनसे कम नहीं। बिना पतवार लिये  ही विधानसभा चुनाव में नाव लेकर उतर पड़े हैं। मंशा यही है कि अब इसमें राम विलास पासवान, उपेन्द्र कुशवाहा और सुशील कुमार मोदी समेत अन्य भाजपा नेता बैठकर उनके माथे पर तिलक लगा दें तो उनकी नैय्या पार हो जाएगी। आखिर वही इकलौते हैं भी जो बिहार के सीएम रहे हैं और महादलित भी हैं। अब मांझी की यह मंशा और फरमाइश देखकर आप समझ ही गए होंगे कि पासवान कितना सुलगे होंगे।

pr сайта этоprofi forex

Leave a Reply

Your email address will not be published.