ब्रेकिंग न्यूज़ 

यादों का साया…

यादों का साया…

लग जा गले कि फिर ये हसीं रात हो न हो शायद फिर इस जनम में मुलाकात हो न हो…दिलकश अदाकारा और हर दिल अजीज स्टार अभिनेत्री साधना हमसे दूर बहुत दूर चलीं गईं। वहां जहां से लौटकर कभी कोई नहीं आता। मशहूर अभिनेत्री साधना ने मुंबई के हिंदुजा हॉस्पिटल में दिन शुक्रवार तारीख 25 दिसंबर, 2015 को अंतिम सांसें लीं। 74 साल की साधना बीमार चल रही थीं। पुराने जमाने के लोगों से लेकर युवाओं तक ने उनके गाने ‘लग जा गले कि फिर ये हसीं रात हो न हो’ को कभी न कभी जरुर सुना और गुनगुनाया है और यह गाना कई लोगों की तनहाईयों का साथी और हमसफर बन चुका है। खासकर साधना की कुछ खासियतों को हम ताउम्र नहीं भूल सकते, बिना बोले सब कुछ बयान करने वाला उनका चेहरा जिसके माथे पर एक लट गिरी रहती और वह हेयरस्टाइल जो कभी उनके प्रशंसकों के बीच तेजी से छा गया था। पिछले साल मुंह के कैंसर की वजह से अदाकारा साधना की सर्जरी हुई थी, लेकिन स्वभाव से बेहद खुशमिजाज अभिनेत्री साधना पिछले साल अभिनेता रणबीर कपूर के साथ रैंप पर भी दिखीं थीं। वह बहुत पॉपुलर थीं और उनका ‘साधना कट’ आज भी महिलाओं के हेयर स्टाइल में जिंदा है। उनका पूरा नाम साधना शिवदासानी था।

उन्हें कई सुपरहिट फिल्मों ‘वो कौन थी’, ‘मेरा साया’, ‘इंतकाम’ व ‘वक्त’ जैसी फिल्मों में उनके यादगार अभिनय के लिए याद किया जाता रहेगा। उनके निधन से बॉलीवुड में एक सूनापन आ गया है। उन्होंने ‘आरज़ू’, ‘मेरे मेहबूब’, ‘लव इन शिमला’, ‘मेरा साया’, ‘वक्त’, ‘आप आए बहार आई’, ‘राजकुमार’, ‘असली नकली’, ‘हम दोनों’ जैसी कई मशहूर हिंदी फिल्मों में अपनी दिलकश अभिनय का लोहा मनवाया था। साधना पर फिल्माये गये गीतों को अपनी सुरीली आवाज देने वालीं सुर साम्राज्ञी लता मंगेशकर ने ट्विटर पर उनके लिये शोक व्यक्त कर लिखा- मेरी पसंदीदा अभिनेत्री साधना जी का स्वर्गवास हुआ। ये सुनकर मुझे बहुत दुख हुआ। साधना जी एक बहुत बड़ी कलाकार थीं। ईश्वर उनकी आत्मा को शांति दे। अनुपम खेर ने भी ट्विटर पर साधना जी के निधन पर शोक व्यक्त किया- साधना जी के निधन की दु:खद खबर सुनने को मिली। वह हमारे कॉलेज के दिनों की अदाकारा थीं। हम जब उनसे मिले, तो उन्हें एक बहुत ही दयालु व नर्म दिल इंसान पाया। बॉलीवुड एक्टर ऋषि कपूर ने भी साधना की फोटो के साथ ट्वीट किया कि – साधना शिवदासानी की आत्मा को शांति मिले। वहीं फिल्म मेकर करण जौहर ने ट्विटर पर साधना के निधन को लेकर दुख जताया- ”आरआईपी साधना आंटी…सौंदर्य, आत्मविश्वास और आकर्षण की आपकी विरासत अमर रहेगी।’’ स्टार अभिनेत्री साधना जी असाधारण व आकर्षक व्यक्तित्व वाली महिलाओं में से एक थीं।

23-01-2016

साधना जी फिल्मालय एक्टिंग स्कूल से थीं और उनके अभिनय को तराशा था एस मुखर्जी साहब ने जबकि उनकी शादी फिल्म डायरेक्टर आर.के. नैयर के साथ हुई थी। शादी के बाद उनके रिश्ते आने वाले वर्षों में फलते-फूलते रहे लेकिन उनके जीवन में संतान की खुशी शायद नहीं थी।

साधना जी पिछले कई वर्षों से कैंसर से जूझ रही थीं। उनकी सेहत में शुरु में सुधार भी हुआ लेकिन अंत में उनकी जिंदगी की डोर पर उनकी सांसों ने लगाम लगा दिया, लेकिन 74 साल की उम्र में भी उनमें गजब की दृढ़ता थी इतनी गंभीर बीमारी के बाद भी वह रैंप पर आईं थीं। जबकि वह अपनी प्रॉपर्टी को लेकर चल रही अदालती लड़ाई भी लड़ रही थी। वह पांच-छह कोर्ट केस भी लड़ रही थीं, जिनके चलते वह परेशान थीं लेकिन उन्होंने कभी अपना गम किसी से साझा नहीं किया और अपने सारे दुखों को खुद के आंचल में ही समेट कर हमसे विदा हो गईं। वह जितनी खूबसूरत थीं उतनी ही उनका दिल भी साफ और खुशमिजाज था।

साधना जी की तबियत पहले से खराब थी लेकिन बीमारी की हालत में भी वह हर पल जिंदगी को जीना बखूबी जानती थीं। वह रैंप पर चलने के साथ ही अपने जमाने की अभिनेत्रियों के साथ पार्टियां भी करती थीं। भारत की फिल्म इंडस्ट्री और उनके चाहने वाले इस बेहतरीन अदाकारा को उनकी अभिनय क्षमता और स्क्रीन पर उनकी जीवंत मौजूदगी को हमेशा याद रखेंगे। वह जानती थीं कि उनकी सांसें कभी भी उनका साथ छोड़ सकती हैं।

साधना जी जैसे शख्स के बारे में संक्षेप में कहना आसान नहीं है, उनका ख़ूबसूरत चेहरा, मनमोहक आवाज, सदैव दूसरों के प्रति प्रेम का भाव और उनकी भाव-भंगिमाएं हमारी यादों में हमेशा मौजूद रहेगा। चमकता सितारा साधना जी स्वर्ग में चलीं गईं। लेकिन, उनकी यादों का साया हमेशा हमारे साथ रहेगा। भगवान उनकी आत्मा को शांति दे।

कुमार मयंक

Акция – продвижение вашего сайта со скидкой за рекомендацию студии TopOdin. Вкусные условия акции внутри публикации!лечение при пародонтозе

Leave a Reply

Your email address will not be published.