ब्रेकिंग न्यूज़ 

बारिश से बचाएं अपने फोन को

गर्मी के बाद पडऩे वाली बारिश सबको सुकून तो बहुत देती है, लेकिन जब इलेक्ट्रॉनिक सामान गीले हो जाते हैं, तो उतना ही दु:ख भी होता है।

गर्मी के बाद हर कोई मॉनसून का इंतजार करता है और जब बारिश शुरू होती है, तो कभी-कभी हम इतने खो जाते हैं कि यह भी भूल जाते हैं कि हमारा मोबाइल भी बारिश में भीग रहा है। आज की तारीख में मोबाइल हमारे जीवन का एक महत्वपूर्ण हिस्सा बन चूका है। मॉनसून के आने से सबसे ज्यादा खतरा मोबाइल फोन को होता है। बारिश में फोन भीग जाए, तो खराब होने की आशंका बनी रहती है। नमी से फोन को नुकसान पहुंच सकता है और पानी लगने से बैटरी खराब हो सकती है। लेकिन आप अपने फोन को खराब होने से बचा सकते हैं। आइए जाने कैसे :

फोन को तुरंत स्विच ऑफ करें

फोन के भीगने पर उसे ऑन करने की गलती न करें। अगर फोन ऑन है, तो उसे तुरंत स्विच ऑफ कर दें। अगर पानी की एक बूंद भी फोन के अंदर चली गई, तो यह चिप में लगे सर्किट्स को आपस में जोड़कर उसे खराब कर सकती है, जिससे फोन में स्पार्किंग हो सकती है। इसके साथ ही फोन में लगी एक्सेसरीज, जैसे- हैडफोन या चार्जर को भी हटा लें।

बैटरी निकाल दें

अगर आपको लगता है कि पानी फोन के अंदर चला गया है, तो फिर फोन का बैक कवर खोलें और बैटरी निकाल लें। बैटरी निकालने के बाद हैंडसेट में बैटरी के नीचे एक छोटा-सा स्टीकर चिपका होता है, जो ज्यादातर फोन में सफेद कलर का होता है। अगर फोन के अंदर पानी चला गया है, तो यह पिंक या फिर रेड कलर में बदल जाता है या फिर अगर फोन के अंदर थोड़ी नमी है, तो इस स्टीकर का रंग बदल जाएगा।

सूखे चावल का प्रयोग करें

फोन के अंदर का पानी सुखाने के लिए घर में सबसे अच्छा तरीका है चावल, एक कटोरी सूखे चावल के अंदर फोन को डाल दें और उसे धूप में रख दें। धूप में रखने से चावल का तापमान बढ़ जाता है जिससे फोन के अंदर का पानी आराम से सूख सकता है। लेकिन फोन को सीधे धूप में न रखें, इससे फोन के खराब होने की संभावना बढ़ सकती है।

हवा से सुखाने की कोशिश करें

गीले फोन को सूखाने के लिए कभी भी माइक्रोवेव या हेयर ड्रायर का इस्तेमाल न करें। इससे फोन और ज्यादा डैमेज हो सकता है। इसके लिए सबसे अच्छा तरीका है कि फोन को फैन के सामने रखें ताकि उसमें मौजूद थोड़ी-बहुत नमी सूख जाए।

रोहन पाल

банковские crmраскрутка сайта в краснодаре

Leave a Reply

Your email address will not be published.