ब्रेकिंग न्यूज़ 

काले जामुन का कमाल

जामुन भारत में काफी लोकप्रिय है। इसका रंग न सिर्फ दिखने में बढिय़ा होता है, बल्कि यह स्वाद और सेहत से भी भरपूर होता है। यह रक्त में हीमोग्लोबिन के स्तर को भी बढ़ाता है। जामुन एक ऐसा फल है जिसे मधुमेह रोगी बिना किसी परेशानी के खा सकते हैं। जामुन में विटामिन बी और आयरन पर्याप्त मात्रा में पाया जाता है और इसे विटामिन सी का भी स्रोत माना जाता है। जामुन के सेवन से शरीर की रोग-प्रतिरोधक क्षमता भी मजबूत होती है। इससे पाचनतंत्र को भी लाभ मिलता है। यह गुणों से भरपूर फल बिल्कुल भी मंहगा फल नहीं है और इसके पेड़ आसानी से सड़कों के किनारे मिल जाते हैं। आइए जानते हैं जामुन से होने वाले स्वास्थ्य लाभ के बारे में:

जामुन के फायदे

  • जामुन के जूस में एंटी बैक्टीरियल और ब्लड प्यूरीफाई प्रॉपर्टीज होती हैं। इस वजह से डायरिया में इससे राहत मिलती है और पेट में रिंगवॉर्म की गुंजाइश भी कम हो जाती है।
  • जामुन में फ्लेवोनॉइड्स, फेनॉल्स, प्रोटीन और कैल्शियम पाए जाते हैं, जो सेहत के लिए लाभकारी होता है।
  • मधुमेह के उपचार के लिए जामुन बहुत ही फायदेमंद माना जाता है। इसमें कैरोटीन, आयरन, फोलिक
  • एसिड, पोटैशियम, मैग्नीशियम, फॉस्फोरस और सोडियम भी पाए जाते हैं जिससे शुगर लेवल मेंटेन रखता है। मधुमेह के रोगियों को जामुन की गुठलियों को सुखाकर, पीसकर उसका सेवन करना चाहिए।
  • कब्ज और पेट के रोगों के लिए जामुन बहुत फायदेमंद होता है। जामुन शरीर की पाचनशक्ति को मजबूत करता है।
  • यदि आपको एसिडिटी की समस्या रहती है तो काले नमक में भुना जीरा मिलाकर पीस लें। फिर इसके साथ जामुन का सेवन करें। एसिडिटी की समस्या से राहत मिल जाएगी।
  • जामुन में एंटी कैंसर के गुण भी पाए जाते हैं। कीमोथेरेपी और रेडिएशन में भी जामुन फायदेमंद होता है।
  • जामुन खाने से पथरी से राहत मिलती है। पथरी के मरीज को जामुन की गुठली के चूर्ण को दही के साथ मिलाकर खाना चाहिए है। यह लीवर को भी स्वस्थ रखता है।
  • मुंह में छाले होने पर जामुन के रस का प्रयोग करने से छाले ठीक हो जाते हैं।
  • दस्त होने पर जामुन बहुत फायदेमंद है। दस्त होने पर जामुन के रस को सेंधानमक के साथ मिलाकर खाने से दस्त होना बंद हो जाता है।
  • गठिया के उपचार में भी जामुन बहुत उपयोगी है। इसकी छाल को खूब उबालकर घुटनों पर लगाने से गठिया में आराम मिलता है।
  • अगर आपको कमजोरी महसूस होती है या आप एनीमिया से पीडि़त हैं तो जामुन का सेवन आपके लिए फायदेमंद रहेगा।
  • यदि आप अपने चेहरे पर रौनक लाना चाहते हैं तो जामुन के गूदे का पेस्ट बनाकर इसे गाय के दूध में मिलाकर लगाने से निखार आता है।

 दिब्याश्री सतपथी

апостол мунтянcanon laserbase mf6560pl

Leave a Reply

Your email address will not be published.