ब्रेकिंग न्यूज़ 

राशिफल: 11 से 17 जून

मेष
जायदाद संबंधी लिए गए फैसले अहितकारी साबित हो सकते हैं। कोर्ट-कचहरी के चक्कर लगाने में दिन बीतेगा। बिजनेस में नुकसान होने की आशंका है। किसी भी बड़ी डील को उपयुक्त समय के लिए टाला जा सकता है। स्वास्थ्य : हाई ब्लड प्रेशर के रोगियों को राहत मिल सकती है। दिन अच्छा बीतेगाए बशर्ते तनाव से दूर रहें। सेहत का खयाल रखें। शुभ अंकरू आपका शुभ अंक 8 है। प्रेम-संबंध में गिफ्ट का आदान-प्रदान कर सकते हैं। मन खुश रहेगा। शुभ रंग: लाल रंग पहनना आपके लिए लाभदायक है। आज के दिन नीले रंग के कपड़े न पहनें तो बेहतर होगा।
वृषभ
यह समय किसी भी तरह के निवेश के लिए अनुकूल नहीं है। कोई आप पर निवेश करने के लिए जोर डाल सकता है, पर उसकी बातों में न आएं। अपने बिजनेस पर ज्यादा ध्यान केंद्रित करने की जरूरत है। स्वास्थ्य : स्वास्थ्यमें उतार-चढ़ाव होता रहेगा। छोटी परेशानियां आपको घेरे रहेंगी। झुंझलाहट से बचने के लिए शांतचित्त रहें। शुभ अंक: आपका शुभ अंक 8 है। प्रेम-संबंध में गिफ्ट का आदान-प्रदान कर सकते हैं। मन खुश रहेगा।
शुभ रंग: लाल रंग पहनना आपके लिए लाभदायक है। आज के दिन नीले रंग के कपड़े न पहनें तो बेहतर होगा।
मिथुन
शेयर खऱीदने और बेचने के लिए समय अच्छा है। शुरुआत में बिजनेस में बाधाएं आ सकती हैं, लेकिन धीरे-धीरे सब ठीक हो जाएगा। प्रॉपर्टी खरीदने के लिए काफी प्रयत्न करना पड़ सकता है। स्वास्थ्य: सेहत का ध्यान रखें और लम्बी यात्रा पर निकलने से बचें। मन परेशान हो तो ध्यान में बैठ सकते हैं। इससे स्वास्थ्य लाभ मिलेगा। शुभ अंक: आपका शुभ अंक 2 है। समय असमंजस में बीतेगा। प्रेम-संबंधों में तनाव की आशंका रहेगी। सतर्क रहें। शुभ रंग: पीला रंग आपके लिए खास है, सभी कार्य सिद्ध होंगे। हरे रंग के कपड़े न पहनें, परेशानी हो सकती है।
कर्क
समय बहुत अच्छा नहीं है। बिजनेस में कुछ नुकसान हो सकता हैए पर ज्यादा नुकसान को होशियारी से टाला जा सकता है। पैसे के मामले में सोच-समझकर ही कोई निर्णय लें। देनदार धोखा दे सकते हैं। जरा संभलकर चलना होगा।
स्वास्थ्य: स्वास्थ्य में उतार-चढ़ाव होता रहेगा। छोटी परेशानियां आपको घेरे रहेंगी। झुंझलाहट से बचने के लिए शांत रहें।
ऑफिस में काम का भार ज्यादा रहने वाला है। सकारात्मक रहें और तनाव से बचें। शुभ अंक: 6, शुभ रंग: लाल रंग पहनना आपके लिए लाभदायक है। नीले रंग के कपड़े न पहनें तो बेहतर होगा।
सिंह
शेयर खरीदने व बेचने के लिए समय आपके पक्ष में है। घरए जमीन या मशीन खऱीदना भी लाभ का सौदा साबित होगा। बिजनेस के लिए नए आयाम खुलते नजर आएंगे। कोई फैसला हड़बड़ाहट में न लें। स्वास्थ्य: चोट लगने की आशंका है, इसलिए गाड़ी चलाते समय बहुत सतर्क रहने की जरूरत है। माइग्रेन बढ़ सकता है। सही मुद्रा (अवस्था) में बैठें। शुभ अंक: आपके लिए 4 अंक शुभ है। नई नौकरी के लिए ऑफर मिलने की संभावना है, परंतु बहुत सोच-समझकर फैसला लेने की जरूरत है। शुभ रंग: सफेद है। लाल रंग पहनने से दिन भर गुस्सा आता रहेगा।
कन्या
यह समय किसी भी तरह के निवेश के लिए अनुकूल नहीं है। निवेश करने के लिए आप पर कोई जोर डाल सकता है, पर उसकी बातों में न आएं। अपने बिजनेस पर ज्यादा ध्यान केंद्रित करें। स्वास्थ्य: चोट लगने की आशंका हैए इसलिए गाड़ी चलाते समय बहुत सतर्क रहने की जरूरत है। माइग्रेन बढ़ सकता है। सही मुद्रा (अवस्था) में बैठें। शुभ अंक: आपका शुभ अंक 6 है। ऑफिस में काम का भार ज्यादा रहने वाला है। सकारात्मक रहें और तनाव से बचें। शुभ रंग: नारंगी रंग आपको बहुत लाभ दे सकता है। काला रंग पहनने से पैसा फंस सकता है।
तुला
समय बहुत अच्छा नहीं है। बिजनेस में कुछ नुकसान हो सकता है, पर ज्यादा नुकसान को होशियारी से टाला जा सकता है। पैसे के मामले में सोच-समझकर ही कोई निर्णय लें। देनदार धोखा दे सकते हैं, जरा संभलकर चलना होगा। स्वास्थ्य: सेहत का ध्यान रखें और लम्बी यात्रा पर निकलने से बचें। मन परेशान हो तो ध्यान में बैठ सकते हैं। इससे लाभ मिलेगा। शुभ अंक:आपके लिए अंक 9 शुभ है। पुराने मित्रों से भेंट हो सकती है। खर्च बढ़ेगा लेकिन समय खुशनुमा बीतेगा। शुभ रंग: हरा रंग आपके लिए शुभ साबित होगा।
वृश्चिक
शेयर खरीदने और बेचने के लिए समय अच्छा है। शुरुआत में बिजनेस में बाधाएं आ सकती हैं, लेकिन धीरे-धीरे सब ठीक हो जाएगा। प्रॉपर्टी खरीदने के लिए काफी प्रयत्न करना पड़ सकता है। स्वास्थ्य: सेहत के लिए समय अनुकूल नहीं है। सावधानी बरतने से समस्याएं कम हो सकती हैं। पेट की बीमारी से बचने के लिए बाहर भोजन न करें। शुभ अंक: आपका शुभ अंक 8 है। प्रेम-संबंध में गिफ्ट का आदान-प्रदान कर सकते हैं। मन खुश रहेगा। शुभ रंग: बैंगनी रंग आपके लिए शुभ है। इस रंग के कपड़े पहनने से सफलता मिलेगी। सफेद रंग से बचें।
धनु
बिजनेस के लिहाज से समय उत्तम है। व्यापार में नई संभावनाएं तलाशी जा सकती हैं। भाग्य आपके साथ है । शेयर मार्केट में निवेश किया जाना शुभ साबित हो सकता है। स्वास्थ्य: हाई ब्लड प्रेशर के रोगियों को राहत मिल सकती है। दिन अच्छा बीतेगा, बशर्ते तनाव से दूर रहें। सेहत का खयाल रखें।
शुभ अंक: आपका शुभ अंक 6 है। ऑफिस में काम का भार ज्यादा रहने वाला है। सकारात्मक रहें और तनाव से बचें।
शुभ रंग: आसमानी रंग के वस्त्र पहनने से आपको विशेष रूप से लाभ मिलेगा। नारंगी रंग का असर इसके उल्टा होगा।
मकर
इस वक्त जायदाद संबंधी लिए गए फ़ैसले अहितकारी साबित हो सकते हैं। कोर्ट-कचहरी के चक्कर लगाने में दिन बीतेगा। बिजनेस में नुकसान होने की आशंका है। किसी भी बड़ी डील को उपयुक्त समय के लिए टाला जा सकता है। स्वास्थ्य: चोट लगने की आशंका है इसलिए गाड़ी चलाते समय बहुत सतर्क रहने की जरूरत है। माइग्रेन बढ़ सकता है। सही मुद्रा (अवस्था) में बैठें।
समय असमंजस में बीतेगा। प्रेम-संबंधों में तनाव की आशंका। सतर्क रहें। शुभ अंक: आपका शुभ अंक 2 है। शुभ रंग:लाल रंग पहनना आपके लिए लाभदायक है।
कुंभ
शेयर खरीदने व बेचने के लिए समय आपके पक्ष में है। घर, जमीन या मशीन खरीदना भी लाभ का सौदा साबित होगा। बिजनेस के लिए नए आयाम खुलते नजर आएंगे। कोई फैसला हड़बड़ाहट में न लें। स्वास्थ्य: कई दिनों से चली आ रही बीमारी में आराम मिलेगा। परिवार के लोगों के साथ हंसी-मजाक से दिन खुशनुमा बीत सकता है। शुभ अंक :आपके लिए 9 अंक शुभ है। पुराने मित्रों से भेंट हो सकती है। खर्च बढ़ेगा लेकिन समय खुशनुमा बीतेगा। शुभ रंग: बैंगनी रंग आपके लिए शुभ है। इस रंग के कपड़े पहनने से सफलता मिलेगी। सफेद रंग से बचें।
मीन
समय बहुत अच्छा नहीं है। बिजनेस में कुछ नुकसान हो सकता है, पर ज्यादा नुकसान को होशियारी से टाला जा सकता है। पैसे के मामले में सोच-समझकर ही कोई निर्णय लें। देनदार धोखा दे सकते हैं, जरा संभलकर चलना होगा। स्वास्थ्य: हाई ब्लड प्रेशर के रोगियों को राहत मिल सकती है। दिन अच्छा बीतेगा, बशर्ते तनाव से दूर रहें। सेहत का ख्याल रखें।
समय असमंजस में बीतेगा। प्रेम-संबंधों में तनाव की आशंका। सतर्क रहें। शुभ अंक: आपका शुभ अंक 2 है। शुभ रंग: आसमानी रंग के वस्त्र पहनने से आपको विशेष रूप से लाभ मिलेगा।
कितने सटीक होते हैं पत्र-पत्रिकाओं में प्रकाशित राशिफल!

परिचय
दीपक बिसारिया ने 1993 में भारतीय विद्या भवन के ज्योतिष संस्थान से विधिवत् ज्योतिष की शिक्षा ग्रहण की थी। वह भारतीय विद्या भवन में ज्योतिष पढ़ाते भी हैं। वह रिलायंस इंडस्ट्रीज में वरिष्ठ पद पर कार्यरत हैं।

लगन दो घंटे, चन्द्रमा सवा दो दिन, सूर्य एक महीना एक राशि में गोचर करते हैं। इनमें से किसी को भी लगन मान कर जब उनके फलों का अध्ययन किया जाता है तो वह उतना ही तीव्र या धीमा फल बताता है जितना उसका गोचर होता है।

पत्र-पत्रिकाओं में प्रकाशित राशिफल आमतौर पर सूर्य को लगन मान कर लिखे जाते हैं जिनमें नौ ग्रहों का गोचर देखा जाता है। इसलिए जब कोई पाठक ऐसे राशिफल पर ध्यान देता है जो सूर्य लगन से देखा गया हो तो तो उसका फल अधिक सूक्ष्म स्तर पर बताया गया नहीं होता है। पत्र-पत्रिकाओं के पास और कोई विकल्प नहीं है, क्योंकि लोगों को अपनी जन्म तिथि याद रहती है और उसी के अनुसार वे अपनी भविष्यवाणी जानना चाहते हैं। लेकिन जब राशिफल जन्मकालीन चन्द्रमा को लगन मान कर बताया गया होता है तो वह अधिक सटीक बैठता है। चन्द्रमा एक राशि में लगभग सवा दो दिन गोचर करता है और प्रतिदिन की कार्यशैली में उसका असर अधिक दिखाई देता है। चन्द्रमा मन का कारक है और यदि मन स्थिर है तो फैसले भी बेहतर ढंग से लिए जा सकते हैं। मैं भी प्रतिदिन अपने हालात चन्द्रमा के गोचर से देखता हूं कि आज का दिन मेरे लिए कैसा होगा। यदि गोचर का चन्द्रमा जन्म के चन्द्रमा से चौथे, आठवें या बारहवें भाव में होता है तो उस दिन ऐसी घटनाएं घटती हैं जो मन में अवसाद पैदा करती हैं, जिन का हमारे मन पर नकारात्मक असर होता है। यदि चन्द्रमा ऐसे भावों में गोचर कर रहा हो जहां अष्टक वर्ग में अधिक बिन्दु हैं तो उसका अधिक सकारात्मक असर होता है। जहां अष्टक वर्ग में कम बिन्दु हों तो उसके फल नकारात्मक होते हैं। चार, आठ और बारह भावों में फल नकारात्मक मिलता है और यदि उस दिन अमावस्या या पूर्णिमा हो तो फल और अधिक नकारात्मक हो जाता है क्योंकि इन दोनों दिनों में चन्द्रमा जातक को उत्तेजित और अस्थिर रखता है। ये दोनों दिन तो किसी शुभ मुहुर्त के लिए भी वर्जित हैं। जब जन्मकालीन चन्द्रमा से गोचर चन्द्रमा तीसरेए पांचवें, सातवें,नौवें और ग्यारहवें भाव में गोचर कर रहा हो तो शुभ फल मिलता है। अधिक लाभ हो जाता है यदि इन भावों में अष्टकवर्ग के बिन्दु अधिक हैं। यदि उन दिनों की तिथियां पूर्णीमा को छोड़ कर शुक्लपक्ष की अष्टमी से कृष्णपक्ष की अष्टमी के बीच में हों तो लाभ में वृद्धि हो जाती है।

वैसे पत्र-पत्रिकाओं में प्रकाशित होने वाले भविष्यफल को पढऩे से पहले उनकी सीमाओं को अवश्य ध्यान में रखना चाहिए, क्योंकि सटीक भविष्यफल तो व्यक्ति की अपनी जन्म कुंडली में दिखने वाले योगों और ग्रहों की दशाओं पर ही निर्भर करता है। दशा आने पर ही गोचर फल प्रदान करता है।

व्यक्तिगत अनुभव
विख्यात ज्योतिषी और मेरे गुरू डॉ. के.एन. राव ने 1996 में मुझे उड़ीसा भेजा। मुझे वहां भृगु संहिता देखनी थी। मैंने वहां भृगु संहिता देखी और मुझे आश्चर्य हुआ कि भृगु संहिता में मेरे बारे में पूरा का पूरा प्रकाशित था। मेरे जीवन की घटनाएं उसमें लिखी थीं और अब तक मेरे जीवन में वही कुछ घट रहा है जो मैंने उसमें पढ़ा।

 सुरेशजी महाराज

отзывы классlegal translation service

Leave a Reply

Your email address will not be published.