ब्रेकिंग न्यूज़ 

कौन बनेगा ओ.एस. का नवाब?

कई नए ऑपरेटिंग सिस्टम (ओ.एस.) के लांच होने के साथ ही तकनीकी बाजार में बहुत ही बेहतरीन विकास-क्रम का आरंभ हुआ है। एक तरफ जहां एप्पल ने अपने ग्राहकों को दीपावली से एक दिन पहले अपने नए उत्पाद आईफोन 5सी और 5एस का उपहार दिया, वहीं नया ओ.एस. का तोहफा देकर अपने उपभोक्ताओं का खास ध्यान रखा। हालांकि गूगल भी इस रेस में पीछे नहीं रहा। गूगल ने अपना नया फोन नेक्सस 5 मार्केट में उतारा है और उसके साथ ही नए ऑपरेटिंग सिस्टम को भी बाजार में उतारा है। माइक्रोसॉफ्ट भी इस रेस में पीछे नहीं रहना चाहता। तकनीकी गलियारों मे उड़ रही अफवाहों को अगर मानें तो माइक्रोसॉफ्ट भी अपने नए ओ.एस. के परीक्षण मे जुटा है।

क्या है ओ.एस.?
ऑपरेटिंग सिस्टम एक ऐसा सिस्टम है, जिसके द्वारा मोबाइल के अन्य सॉफ्टवेयर काम करते हैं। तकनीकी क्षेत्र में हो रही लगातार उन्नति एक नए दौर के आरंभ को भी दर्शाता है। कुछ ऐसे ओ.एस. हैं जिसने तकनीकी क्षेत्र में हलचल मचा रखी है।

किट कैट
ओ. एस. की दुनिया में सबसे नवीनतम तकनीकि आधारित ऑपरेटिंग सिस्टम, एंड्रॉयड 4.4 उर्फ किट कैट पर से आखिरकार पर्दा उठ गया है। इसमें इंफ्रारेड ब्लास्टर, फुल-स्क्रीन इम्मर्सिव मोड और मोबाइल प्रिटिंग जैसे नए और अनूठे फीचर गूगल ने जोड़े हैं। लेकिन जो बात किट कैट को इसके पूर्ववर्ती वर्जनों से अलग करता है, वह है इसकी मेमोरी ऑप्टिमाईजेशन की क्षमता। इसके द्वारा यह अपडेट 512 एम.बी. रैम की कोई एंड्रॉयड फोन में चल सकता है। एक और बड़ी दिलकश फीचर जो इस बार किट कैट में जोड़ी गई है, वह है स्क्रीन रिकॉर्डिंग। इसके द्वारा यूजर अपने फोन की स्क्रीन पर हो रही गतिविधियों को रिकॉर्ड करके उसकी वीडियो बना सकता है। किट कैट फिलहाल गूगल नेक्सस 5 में ही उपलब्ध है, लेकिन बाकी एंड्रॉयड-बेस्ड फोन्स में भी यह जल्दी ही उपलब्ध होगा।

आईओएस 7
मार्केट में बढ़ती प्रतिस्पर्धा को देखते हुए, एप्पल ने भी एक नया ऑपरेटिंग सिस्टम लांच किया है, जो उसके पारंपरिक ओ.एस. से बिल्कुल अलग है। एप्पल ने इस नए ओ.एस. को बड़े ही नायाब ढंग से पेश किया है। इस बार कंपनी ने फ्रेश लुक देने का प्रयास किया है। एक ऐसा ही फीचर है: स्वाइप अप, जिसके द्वारा यूजर बट्टन्स स्क्रीन को स्वाइप करके कंट्रोल सेंटर खोल सकता है। नई चीजें जैसे स्क्रीन ब्राइटनेस, कैमरा, क्लॉक एप, सिस्टम वॉल्यूम और म्युजिक प्लेबैक आदि ने इस ओ.एस को काफी आकर्षक बनाया है। एप्पल द्वारा निजात की हुई वॉइस असिस्टेंट ‘सिरी’ को और भी बेहतर बनाया गया है।
विंडोज फोन 8.1
माइक्रोसॉफ्ट ने इस ऑपरेटिंग सिस्टम को विकसित किया है। माइक्रोसॉफ्ट और नोकिया, दोनों मिलकर विंडोज फोन 8.1 का परीक्षण कर रहे हैं। यह माना जा रहा है कि नया विंडोज फोन 8.1 में काफी नई चीजों को जोड़ा गया है। उसमें से एक है ‘कोरटाना’। कोरटाना एक ऐसा वॉइस असिस्टेंट है, जो एप्पल के ‘सिरी’ की तरह काम करता है। विंडोज फोन 8.1 के अन्य फीचर्स जैसे एप-लिस्ट सॉर्टिंग और एक्शनेबल नोटिफिकेशन आदि ग्राहकों को काफी लुभाएगा।

अगर माइक्रोसॉफ्ट की मानें तो यह नया अपडेट बाकी ओ.एस. से बेहतर साबित होगा। विंडोज फोन 8.1, 2014 तक लांच हो जाएगा।

जहां एक तरफ एंड्रॉयड ने पिछले कुछ सालों में काफी लोकप्रियता हासिल की है, वहीं एप्पल का आईओएस लोगों में खासा लोकप्रिय रहा है। विंडोज पहले कंप्यूटर मे उपयोग होता था। अब इसका इस्तेमाल मोबाइल चलाने के लिए भी होने लगा है। इसे देखकर एक बात तो साफ हो जाती है कि सभी ओ.एस. अपने क्षेत्र में राजा हैं, लेकिन इन सबके बीच हो रही कड़ी प्रतियोगिता से ग्राहकों को काफी फायदा हो रहा है।

 

रोहन पाल

workплитвицкие озера хорватия туры

Leave a Reply

Your email address will not be published.