ब्रेकिंग न्यूज़ 

बीबी से बचाओ

बीबी से बचाओ

एक एसपी साहब अपनी वकील बीबी से परेशान हैं। बीबी है कि एसपी साहब की हेकड़ी ढ़ीली कर दे रही है। जब भी एसपी साहब का पुलिसिया विभाग रुआब झाडऩे पहुंचता है, बीबी दहेज उत्पीडऩ को लेकर घरेलू हिंसा तक के दावे लेकर खड़ी हो जाती है। वही मामले की गंभीरता को देखकर दरोगा जी के पास टुकुर-टुकुर देखने के सिवा कोई चारा नहीं रहता। मामला उत्तर प्रदेश का है और डीआईजी साहब इस पर गौर फरमा रहे हैं।



दूबे बनकर लौटे


10-04-2016

एक कहावत है, चौबे गए थे छब्बे बनने, दूबे बनकर लौट आए। यही हाल उत्तराखंड के सीएम हरीश रावत का है। पहले तो अपने विधायकों को नाराज कर लिया। एनडी तिवारी के वफादारों को ठिकाने लगाने लगे और जब सरकार पर संकट मंडराया तो बगले झांकने लगे। किसी तरह से कांग्रेसियों ने मैनेज करना शुरू किया तो हरक के करीबी उमेश शर्मा से डील करने लगे। सीडी आ गई सामने और जब राष्ट्रपति ने सरकार बर्खास्त कर दी तो लोकतंत्र की हत्या बता रहे हैं। गजब है भाई चोरी भी, सीना जोरी भी।



क्या बात है!


आजकल भाजपा सांसद दंग है। उन्हें मोदी जी के द्रवित हृदय देख अचंभा हो रहा है। पहले मोदी जी बात-बात पर पार्टी फोरम में क्लास लगाते थे, मिलने का समय मांगने पर महीनों इंतजार कराते थे, लेकिन आजकल बदल गए हैं। पुचकारने लगे हैं। आज समय मांगिए कल बुला लेते हैं। इतना ही नहीं, सांसदों की मौजूदगी में पोडियम पर नहीं आकर बीच में बैठ जाते हैं।



उठो रागा उठो


10-04-2016

अपने रागा, यानी राहुल गांधी की सुबह और शाम का कांग्रेसियों को भी पता नहीं। जब दुनिया जागती है तो रागा सोते हैं। लिहाजा, जब वह उठते हैं तो पूरा खेल खत्म हो चुका होता हैं। ताजा मामला पंजाब का है। कांग्रेसी कुछ भाजपाइयों/अकालियों को पार्टी में लाना चाहते थे लेकिन जब तक रागा हरी झंडी दिखाते, पता चला वे आम आदमी पार्टी में चले गए।



वाह! प्रतीक यादव


10-04-2016

प्रतीक मुलायम की दूसरी पत्नी के पुत्र हैं। अपने रसूख के लिए लड़ रहे हैं। जब से मुलायम ने अखिलेश को सीएम बनाकर उत्तराधिकार सौंपा है तब से प्रतीक ने अपने मांगों की सूची बढ़ा दी है। वैसे भी नेता जी (मुलायम) का स्वास्थ्य ठीक नहीं रहता। पहले प्रतीक ने थोड़ा भला अपना कराया। फिर ससुर बिष्ट जी को सूचना आयुक्त बनवाया और अब उनकी पत्नी अपर्णा यादव लखनऊ कैंट से समाजवादी पार्टी के टिकट पर चुनाव लड़ेगी।



बाबा आए, थैला लाए


10-04-2016

योग गुरु बाबा रामदेव आजकल उद्योग फैलाने में लग गए हैं। उनकी योजना एफएमसीजी क्षेत्र की सभी मल्टीनेशनल कंपनियों को मात देने की है। हो भी क्यों न जब कोलगेट मंजन हर महीने 45 लाख और दंत कांति 20 लाख से ऊपर बिक रहा हो। लिहाजा, बाबा प्रचार-प्रसार के लिए हर केन्द्रीय मंत्री, सांसद, विधायक सेलेब्रेटी का दरवाजा खटखटा रहे हैं। खटखटा ही नहीं रहे, बल्कि भारी-भरकम पतंजलि उत्पादों का थैला भी लेकर जा रहे हैं। लगे रहो बाबा जी।



भागो शत्रु आया


10-04-2016

अपने शॉटगन भाजपा की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में पहुंचे। जिधर मुड़े, उधर मैदान खाली। जो घुलते-मिलते थे वह भी नजरें चुरा रहे थे। सबकी चिंता एक ही थी, कही शॉटगन के साथ की गुफ्तगु मोदी-शाह टीम देख न ले। और शत्रु भाई थे, सब समझ रहे थे।



शिवपाल की तूती


10-04-2016

उत्तर प्रदेश में चाचा शिवपाल की तूती बोलती है। पार्टी से लेकर सरकार और अपने विभाग तक में चाचा का निर्णय मुलायम और सीएम अखिलेश भी नहीं टाल पाते। शिवपाल ने अपनी अलग विंग ही खड़ी कर ली है। हाल में सैफई में एलीवेटेड रोड की निविदा और काम आवंटन में वही हुआ जो चाचा जी चाहते थे। यहां तक कि मुलायम और अखिलेश ने इसे नाक का सवाल बनाया तो पीडब्ल्यूडी इंजीनियर ने तीनों के वफादारों में समझौता करके ही काम चलाया।



यूपीए में नवीन, एनडीए में सज्जन


10-04-2016

ञ्चया बात है। कुछ भी हो जिंदल राज चल रहा है। यूपीए के जमाने में नवीन जिंदल की तूती बोलती थी। अब उनके पावर प्लांट पर भाई सज्जन जिंदल की नजर है। एनडीए में अब सज्जन जिंदल चांदी काट रहे हैं। सुना है केंद्रीय ऊर्जा मंत्री पीयूष गोयल से होते हुए अब सीधे 7 आरसीआर तक पहुंच रखते हैं। फाइल तो बस नाम से ही दौड़ जाती है।



और आडवाणी जी


10-04-2016

बड़ी तमन्ना थी कि भाजपा की राष्ट्रीय कार्यकारिणी में कुछ तो बोलेंगे। आखिर कभी संगठन मुट्ठी में रहता था। आदर से बुलाए गए थे तो ससम्मान पहुंचे। कयास ही लगता रहा, लेकिन अपने मार्गदर्शक लालकृष्ण आडवाणी जी को माइक नसीब नहीं हुई। अब देखिए प्रणब दा के बाद राष्ट्रपति भवन में क्याा होता है।


cargo transportused cars in deutschland

Leave a Reply

Your email address will not be published.