ब्रेकिंग न्यूज़ 

ममता कुलकर्णी: जोगन या ड्रग्स क्वीन

ममता कुलकर्णी: जोगन या ड्रग्स क्वीन

विक्की गोस्वामी  जुर्म की दुनिया का बादशाह है तो ममता कुलकर्णी ग्लैमर का दुनिया की महारानी। आजकल इन दोनों की जुर्म और प्रेम कहानी काफी चर्चा में है।बड़ी अजीब कहानी है उनकी। ममता अपने बारे में कहती है कि वह तो ईश्वर के प्रति समर्पित साध्वी हैं, दूसरी तरफ मुंबई से सटे ठाणे जिले की पुलिस ममता कुलकर्णी की तलाश में है और उनसे पूछताछ करना चाहती है। ममता के पति  विक्की गोस्वामी का नाम दो हजार करोड़ की ड्रग्स तस्करी में सामने आया है, कोई कहता है कि वह विक्की गोस्वामी की प्रेमिका है, तो कुछ सूत्र कहते है कि वह विक्की की बीवी है, मगर विक्की गोस्वामी कहते है कि ममता उसकी बीवी नहीं है। ममता भी कहती है कि विक्की उसका शौहर नहीं है, विक्की कहता है ममता सिर्फ उसकी वैल विशर है। कुछ ऐसी ही बात ममता भी कहती है। आखिर माजरा क्या है? वह साध्वी है या तस्कर सुंदरी?

यूं तो ममता कई सालों से मुंबईया फिल्म इंडस्ट्री से गायब है, लेकिन कुछ अर्से पहले एक तस्वीर ने ममता कुलकर्णी को फिर से चर्चा में ला दिया। इसमें वह माथे पर तिलक लगाए दिख रही थीं। इसके बाद खबरें आईं कि ममता अब जोगन बन गई हैं। उन्होंने एक चैनल से इंटरव्यू में कहा कि मैं बॉलीवुड को छोड़कर ध्यान में लीन हो गई हूं और मैंने ईश्वर में ध्यान लगा लिया है। उसके बाद मेरा मन ही नहीं किया कि ग्लैमर की दुनिया में लौटूं।

यह ममता कुलकर्णी की अपने बारे में राय है मगर हकीकत यह है कि ठाणे पुलिस उसकी तलाश में है, कुछ लोग यह भी कहते हैं कि जोगन और साध्वी होने की बाते और कुछ नहीं अपने जुर्म को ढकने की कोशिश है। हिन्दी फिल्म इंडस्ट्री में नब्बे के दशक में सेक्स सिंबल के तौर पर मशहूर रही अभिनेत्री ममता कुलकर्णी पिछले एक दशक से लाइमलाइट से गायब थीं और अब उन्होंने आध्यात्म  पर एक किताब लिखी है, जिसका नाम है ‘ऑटोबायोग्राफी ऑफ एन योगिनी’।

ममता कुलकर्णी ने ड्रग्स तस्कर विक्की  गोस्वामी से शादी की खबरों पर भी सफाई दी। उसने कहा, ‘मैंने कभी किसी से शादी नहीं की और न ही अब शादीशुदा हूं। यह सही है कि मैं विक्की से प्यार करती हूं लेकिन उसे भी पता होगा कि अब मेरा पहला प्यार ईश्वर है।

ममता कुलकर्णी जैसी सेक्सी साध्वी की इन भोली बातों पर कोई भी सदके जाना चाहेगा, लेकिन ठाणे की पुलिस उसको साध्वी होने को गंभीरता से नहीं लेती और उसकी साधना में खलल डालना चाहती है। एक जमाने तक जवां दिलों की धड़कन रही ममता कुलकर्णी अब बॉलीवुड की चमक दमक से दूर जा चुकी हैं। लेकिन नशे की दुनिया में उनका नाम कई बार सुर्खियों में आ चुका है। मुंबई से सटे ठाणे से पकड़ी गई हजारों करोड़ रूपये की नशे की खेप का लिंक सोलापुर और गुजरात होते हुए अफ्रीकी देश केन्या से जुड़ा तो ममता कुलकर्णी का नाम भी लिया जाने लगा। पुलिस को जांच में पता चला कि पकड़े गए नशे के सौदागर केन्या में अंतरराष्ट्रीय ड्रग माफिया विक्की गोस्वामी से भी कई बार मिले थे। विक्की गोस्वामी को ममता कुलकर्णी का पति कहा जाता है, लेकिन जब पत्रकारों ने ममता से बात कर इन आरोपों पर जवाब मांगा तो उन्होंने चौंकाने वाला जवाब दिया। ममता कुलकर्णी का कहना है कि विवेक उनके पति नहीं हैं बल्कि सिर्फ दोस्त हैं। लेकिन जहां तक हमें जानकारी है ममता कुलकर्णी ने विक्की गोस्वामी से दुबई में उस वक्त शादी की थी जब वो जेल में बंद था। और शादी के बाद ही विक्की दुबई की जेल से रिहा हो पाया था।

आपको बता दें अंतरराष्ट्रीय ड्रग्स तस्करों का खुलासा होने के बाद कई देशों की जांच एजेंसियां सक्रिय हो गई हैं। यही वजह है कि अमेरिकी ड्रग एनफोर्समेंट डिपार्टमेंट के अफसरों ने भी ठाणे पुलिस से मुलाकात कर जानकारी साझा की है। ठाणे पुलिस इस मामले में ममता कुलकर्णी के पति को अहम कड़ी मानकर चल रही है। क्योंकि इस मामले में गुजरात के पूर्व विधायक का बेटा किशोर राठौड़ भी फरार आरोपियों में से एक है। और विक्की गोस्वामी का बचपन से लेकर जवानी तक का सफर भी अहमदाबाद में ही बीता है।

mamta-kulkarni-latest-colour (1)

विजय आनंदगिरी गोस्वामी उर्फ विक्की गोस्वामी का बचपन गुजरात के शहर अहमदाबाद के पुराने इलाके में ही बीता था। उसका पैतृक निवास अहमदाबाद के पालडी इलाके में लक्ष्मीकुंज सोसायटी के बंगला नं. 6 है। यहां विक्की का परिवार आज भी रहता है। परिवार कहता तो यही है कि उन्होंने विक्की से रिश्ते खत्म कर लिए हैं लेकिन अहमदाबाद में यह बात मानने के लिए न पुलिस तैयार है, न स्थानीय पत्रकार, न खुफिया एजंसियां और न ही मुखबिर। विक्की बचपन से ही बेहद अमीर होने और शानदार जीवन जीने के सपने देखता था। उसने लगातार यही कोशिश की कि पैसों का अंबार लगा ले। कई किस्म के काम किए लेकिन अच्छी कमाई नहीं हुई तो आखिरकार वह गैंगस्टर बन बैठा, जब विक्की के संबंध दाऊद गिरोह से हुए और उसे नशा तस्करी में कमाई की असीम संभावनाएं दिखीं, तो उसने पैसों के खातिर यह जहर युवा पीढ़ी के लिए मुहैय्या करवाने का काला खेल खेलना शुरू कर दिया। इकबाल मिर्ची की मौत के बाद वह देश का नंबर वन नशा तस्कर बन गया था।

सूत्रों की मानें तो विक्की गोस्वामी 2014 के दिसंबर महीने में भारत आया था। लेकिन कुछ समय बाद वह केन्या लौट गया। हालांकि भारत में उसके खिलाफ ऐसे आपराधिक मामले दर्ज नहीं थे, जो उसे केन्या जाने से रोक सकते।

ममता ने बॉलीवुड में 1992 में ‘तिरंगा’ फिल्म से कदम रखा। इसके बाद वह ‘आशिक अवारा’ में दिखाई दीं। फिर ‘वक्त हमारा है’, ‘क्रांतिवीर’, ‘करण अर्जुन’, ‘सबसे बड़ा खिलाड़ी’ और ‘बाजी’, ‘घातक’, ‘चाइना गेट’ सरीखी फिल्मों में काम करके नाम कमाया। 2002 में आई ‘कभी तुम कभी हम’ के बाद उसने फिल्म इंटस्ट्री को अलविदा कह दिया, 1993 में स्टारडस्ट मैगजीन में टॉपलैस फोटोशूट कराकर वह काफी चर्चा में आ गई थीं। इसके लिए उस पर जुर्माना भी हुआ था। यही नहीं ‘चाइना गेट’ में काम करने को लेकर खबरें उड़ी थीं कि छोटा राजन के कहने पर उसे यह फिल्म मिली। हालांकि यह फिल्म फ्लॉप रही और इसका सुपरहिट गाना ‘छम्मा-छम्मा’ भी उर्मिला के खाते में चला गया।

कहते तो यह भी हैं कि जब फिल्मों से ममता की विदाई हो गई तो एक एनआरआई से विवाह कर वह अमरीका जा बसी थीं लेकिन कुछ ही अरसे में यह शादी टूट गई। इसका कारण यह भी बताया जाता है कि विक्की से रिश्तों की जानकारी होने कारण ही ममता के पति ने उससे संबंध विच्छेद करने में भलाई समझी थी। इसके बाद विक्की और ममता ने शादी की तथा दुबई में ही रहने लगे थे। जब ममता फिल्मों में थीं, मादकता का दूसरा नाम बन चुकी था। उनकी मादक अदाओं पर देश के तमाम पुरुष फिदा थे। उनमें विक्की भी शामिल था।


2000 करोड़ की ड्रग्स


2016061839L

पूर्व फिल्म अभिनेत्री और केन्या में साधवी बनी ममला कुलकर्णी के खिलाफ ठाणे क्राइम ब्रांच पुलिस ने 2000 करोड़ के ड्रग रैकेट मामले में सबूत मिलने का दावा किया है। इन सबूतों के आधार पर पुलिस ने अब ममता कुलकर्णी को भी आरोपी बनाया है। जिसके लिए ठाणे क्राइम ब्रांच रेड कार्नर भी जारी करवा सकती है। हालांकि ममता कुलकर्णी आरोपों से इनकार करती रही हैं।

इसे लेकर ठाणे पुलिस आयुक्त परमवीर सिंह ने प्रेस कॉन्फ्रेंस की। सिंह ने कहा कि 12 अप्रैल 2016 को 2 हजार करोड़ की ड्रग्स जब्त की गई थी। अब तक 10 आरोपी को गिरफ्तार किया गया है। ममता कुलकर्णी हमारे केस में आरोपी है। कोर्ट के सामने दो आरोपियों ने बयान दिया है कि केन्या में हुई मीटिंग में ममता भी थी। मीटिंग काफी देर तक चली थी। ड्रग्स को कैसे हिंदुस्तान से लाया जाए, बाजारों में कैसे बेचा जाए जैसे कई बातों पर चर्चा हुई। कंपनी के 2 करोड़ में से 11 लाख शेयर ममता के नाम पर ट्रांसफर करने पर सहमति बनी थी, जिससे वो डायरेक्टर बन जाती।

सिंह ने कहा कि केन्या में जो मीटिंग हुई थी उसमें ममता कुलकर्णी, विक्की गोस्वामी और कुछ और लोग थे। ये चर्चा हुई थी कि एवोन लाइफ साइन्स में एफीड्रीन बनेगा और उसे मेथ में बदला जाएगा। 2 करोड़ शेयर में से 11 लाख शेयर ममता कुलकर्णी के नाम पर लिये जाएंगे जिससे वो कंपनी में डाइरेक्टर हो जाएगी। करीब 23 टन एफ एफीड्रिन यहां से अफ्रीका ट्रांसफर होने वाला था। हम ममता कुलकर्णी का नाम वेरिफाई करना चाहते थे और वो अब कंफर्म हो गया है।

(सूत्र:नेट)          


mamta6ममता कुलकर्णी का नाम एक बार फिर सुर्खियों में तब आया जब ममता ने अपना धर्म बदलकर इस्लाम कबूल कर लिया। उन्होंने अपना धर्म परिवर्तन ड्रग्स तस्कर विकी गोस्वामी से शादी करने के लिए किया । पिछले 15  साल से गायब ममता दुबई में रहकर अपने बॉयफ्रेंड विक्की की रिहाई का इंतजार कर रहीं थीं जो दुबई की ही जेल में आजीवन कारावास की सजा काट रहा था। विक्की की रिहाई के लिए ममता लंबे समय से कोशिश कर रहीं थी और आखिर में उन्होंने शादी करने का रास्ता निकाला। इसके लिए ममता को इस्लाम कबूल करना पड़ा और इस्लामिक रीति रिवाजों से विक्की से निकाह करना पड़ा। इस निकाह से खुश होकर दुबई के शेख ने विक्की की सजा माफ कर दी। अगर ममता ऐसा ना करतीं तो विक्की 25 साल तक दुबई की जेल में सड़ता रहता।

बता दें कि विक्की को 1997 में दुबई में मेंड्रेक्स बनाने का कारखाना चलाने और तस्करी करने के आरोप में पुलिस ने आठ महीने लंबे चले अभियान के बाद रंगे हाथों गिरफ्तार किया था। विक्की को 11.5 टन मैंड्रेक्स तस्करी के आरोप में गिरफ्तार किया था, खाड़ी देशों के कड़े कानूनों के कारण उसे होनी तो फांसी थी लेकिन इस्लाम कबूलने के कारण उसे उम्र कैद हुई। विक्की के जेल में रहते हुए ममता ने उसका खासा साथ दिया था। उसे न केवल कानूनी लड़ाई में पूरी मदद की बल्कि दुबई में उसकी तमाम संपत्ति और कारोबार का भी पूरी तरह से खयाल रखा था। विक्की का दुबई में होटल कारोबार है, जिसकी देखरेख ममता ही करती रही हैं।


अंडरवर्ल्ड और बॉलीवुड की हसीनाएं


1416051261dawood-mandakini

अंडरवर्ल्ड डॉन और बॉलीवुड की हसीनाओं का काफी पुराना नाता है। बॉलीवुड की कई हीरोइनों का नाम डॉन से जुड़ा। हम आपको बता रहे हैं बॉलीवुड की उन हसीनाओं के बारे में जिनका नाम अंडरवर्ल्ड डॉन से जुड़ा।

हाजी मस्तान के बॉम्बे डॉक के कुली से मुंबई का राजा बनने का सफर किसी फिल्मी कहानी से कम नहीं। फिल्मों की ओर मस्तान काफी आकर्षित रहता था। वह दिलीप कुमार और मधुबाला का बहुत बड़ा फैन था और मधुबाला इस कदर पसंद थी कि शायद इसीलिए मस्तान ने शादी की थी सोना नाम की अदाकारा से जो दिखने में बिलकुल मधुबाला जैसी ही दिखती थीं

1985 में फिल्म ‘राम तेरी गंगा मैली’ से बॉलीवुड में अपने करियर की शुरुआत करनेवाली मंदाकिनी का नाम भारत के मोस्ट वांटेड डॉन दाऊद के साथ जुड़ा था 90 के दशक में कई मौकों पर दोनों को साथ में देखा गया। कहा तो ये भी जाता है कि मंदाकनी की वजह से दाऊद की शादीशुदा जिंदगी में तूफान आ गया था।

90 के दशक की टॉप हिरोइन रह चुकी ममता कुलकर्णी का नाम दाऊद के साथी रहे छोटा राजन से जुड़ा। बाद में ये भी खबर आई कि ममता ने ड्रग तस्कर विक्रम गोस्वामी से शादी कर। हालांकि ये मशहूर अदाकारा आज गुमनानी की जिंदगी जी रही हैं।

बॉलीवुड अभिनेत्री मोनिका बेदी और डॉन अबू सलेम के बीच कई सालों तक अफेयर चला, जिसके चलते मोनिका बेदी को जेल की हवा तक खानी पड़ी। आज सलेम तो जेल में है वहीं मोनिका फिर से अपना करियर संवारने की कोशिश कर रही हैं। पाकिस्तानी एक्ट्रेस अनिता अयूब का नाम भी दाऊद के साथ जुड़ा। कहा जाता है कि डॉन ने अनिता को फिल्मों में काम दिलाने के लिए कई डायरेक्टरों को धमकी भी दी थी।

(सूत्र:नेट)          


अहमदाबाद में विक्की के परिवार के लोग रहते हैं, उसके कुछ करीबियों का कहना है कि विक्की की शादी हो चुकी है उसके दो बच्चे भी हैं। सूत्रों के बताए अनुसार, विक्की गोस्वामी 2014 के दिसंबर महीने में भारत आया था। लेकिन कुछ ही समय बाद वह केन्या चला गया था। गोस्वामी ने अपना ड्रग्स बिजनेस का मुख्य अड्डा केन्या में ही बनाया था। यहीं से वह पूरी दुनिया में ड्रग्स सप्लाई करता है। गोस्वामी के साथ ममता कुलकर्णी भी केन्या शिफ्ट हो गई थी। दोनों केन्या में ही रह रहे हैं और वहीं से ड्रग्स का बिजनेस चलाते हैं।

 सतीश पेडणेकर

харьков лобановскийгибкие зубные протезы

Leave a Reply

Your email address will not be published.