ब्रेकिंग न्यूज़ 

आनंदी बनाम शाह

आनंदी बनाम शाह

दिल्ली में भाई लोग गुजरात की सीएम आनंदी बेन पटेल को न जाने कब से बदल रहे हैं। लोगों के कयास हैं कि गुजरात की कमान भाजपा अध्यक्ष अमित शाह के पास जाने वाली है। इधर आनंदी बेन ने धीरे से शाह भाई को जोरदार झटका दे दिया है। शाह भाई के चहेते पुलिस महानिदेशक पीसी ठाकुर की गुजरात से छुट्टी करा दी है। ठाकुर होमगार्डज महानिदेशक बन गए हैं। जब से शाह भाई ने यह खबर सुनी है, पता चला कि तीन बार कान खुजाते हैं। आगे देखते जाइए क्या होता है।



क्या कर लेंगी प्रियंका?


17-07-2016

उत्तर प्रदेश में कांग्रेस की स्थिति निल बटे सन्नाटा है और ऐसे में कांग्रेस ने प्रचार के लिए प्रियंका गांधी को उतारने का फैसला किया है। लेकिन उ.प्र. के पूर्व प्रभारी मधुसूदन मिस्त्री इसे नहीं पचा पा रहे हैं। साफ  कहते हैं कि उ.प्र. में कांग्रेस की जड़े सूख चुकी हैं। ऐसे में केवल प्रियंका को उतारने से काम नहीं चलेगा, बल्कि कुछ और बड़े निर्णय लेने होंगे। अब भला कौन मिस्त्री साहेब को बताए ढाई साल से अधिक समय तक आप प्रभारी थे तो क्या कर लिया? खैर, खबर है कि ​प्रियंका पूरे जोश में हैं।



प्रो. साहब की गुगली


17-07-2016

अमर सिंह के राज्यसभा में आते ही लोगों को लग रहा था कि प्रो. रामगोपाल के दिन लद गए। वैसे भी शिवपाल सिंह यादव तेजी से खिचड़ी पकाने लगे थे। लेकिन कहते हैं कि सौ सुनार की एक लोहार की। मौका देखकर कौमी एकता मामले में भतीजे के कंधे पर हाथ रखकर जोर का झटका धीरे से दे दिया। जब से यह मोहब्बत भरी चपत शिवपाल को लगी है, बेचारे अब अपनी बचाते फिर रहे हैं। उधर एक ही चाल से सीएम अखिलेश की जोरदार छवि भी ​बन गई है, लिहाजा नेता जी (मुलायम) भी गदगद हैं।



अब कौन जाएगा?


17-07-2016

मैडम माया पार्टी में मच रही भगदड़ से हैरान हैं। पहले स्वामी प्रसाद साथ छोड़ गए, तो बाद में आर.के.चौधरी ने भी बची-खुची कसर पूरी कर दी। बसपा के भीतर यह खबर तेजी से फैल रही है कि जल्द ही कुछ और कद्दावर भी जाने की तैयारी में हैं। जाहिर है जो जाता है मूल के साथ सूद लेकर जाता है। ऐसे आरोप लगा देता है कि बसपा सुप्रीमो को खुद ही सफ ाई देनी पड़ती है। ऐसे में बसपा प्रमुख इसका पता लगाने में जुट गईं हैं कि अगला चेहरा कौन है, ताकि बसपा से निकाले जाने की सफाई अब वह दे। वाह भाई वाह।



भागो स्वामी आया


17-07-2016

सुब्रमण्यम स्वामी जी राज्यसभा में आए तो धमाल कर दिया। कई भाजपाईयों के चेहरे पर मुस्कान तैर गई। कांग्रेसी भी मुस्कुराए कि भाजपा की टीम में अपने पाले में गोल करने वाला धुरंधर आ गया है। स्वामी ने सज्जबाग भी दिखाए कि विरोधी (जेटली) की खैर नहीं है। लेकिन सुना है रघुराम राजन, अरविन्द सुब्रमण्यम पर हमला बोलने के बाद जब से स्वामी को पीएम से नसीहत मिली है, भाजपाई भी उनसे थोड़ा दूरी बनाने लगे हैं। अब स्वामी सार्वजनिक तौर पर जिससे हेलो हॉय कर रहे हैं, वह पहले अगल-बगल देख ले रहा है।



ठाकुर रेटिंग गिरी


उत्तर प्रदेश में चुनाव से पहले चढ़ी ठाकुर नेताओं की रेटिंग अचानक गिर गई। इसका एक बड़ा कारण अमर सिंह की सपा और राज्यसभा में वापसी मानी जा रही है। पहले लग रहा था कि राजा भईया भाजपा के करीब आएंगे। 7-10 प्रतिशत का वोटबैंक अगड़ों को तेजी से जोड़ेगा। इसी तरह कांग्रेस ने अमेठी के संजय सिंह को भाव देना शुरू कर दिया था, लेकिन अब इस तरह की हलचल शांत हो गई है। बताते हैं जब से यह हलचल रुकी है, कई ठाकुर नेता भी सकपकाए हैं। अब देखिए आगे ब्राह्मण रेटिंग कैसे चलती है।



केजरी बनाम केन्द्र


17-07-2016

केजरी सरकार केन्द्र की मोदी सरकार से कोई पंगा लेने से नहीं चूकती। कहा तो यहां तक जाता है कि इसके लिए अवसर भी खोजती रहती है। बताते हैं जब से 21 विधायकों के ऑफिस प्रॉफिट का मामला आया है और टैंकर घोटाले से लेकर एक-एक मामले में शिकंजा कस रहा है, केजरी का गुस्सा भी लगातार सातवें आसमान पर है। उनके प्रिय नौकरशाह राजेन्द्र कुमार पर भी जांच एजेंसियों का शिकंजा कस गया है। अब आगे देखिए क्या होता है।



मंत्रिमंडल विस्तार


17-07-2016

मंत्री चाहे जो बने लेकिन मीडिया ने इसको लेकर कई बार गाल बजा लिया है। पिछले साल से ही तीन-चार मंत्रिमंडल विस्तार की खबरे छप चुकी हैं। इतना ही नहीं इस कयास बाजी में कई बार भाई लोगों ने कलराज मिश्र, नजमा हेपतुल्ला समेत न जाने कितनों की कुर्सी जाने की सूचना भी दे दी। खैर अब मीडिया ने खबर दी है कि यूपी से मोदी सरकार में 13 मंत्री हैं। इस विस्तार के बाद 17 हो जाएंगे। चलो मीडिया भाई लोग आपकी ही जय हो जाए।


как взломать icloudинструменты

Leave a Reply

Your email address will not be published.