ब्रेकिंग न्यूज़ 

item-thumbnail

जनसंख्या विस्फोट पर लगे लगाम

0 July 19, 2021

सारा विश्व आज बढ़ती हुई जनसंख्या से अत्यधिक चिंतित है। प्रकृति और देश के संसाधन सीमित होते हैं और जनसंख्या वृद्धि से उन पर अत्यधिक दबाव पड़ता है, उनका...

item-thumbnail

पारदर्शी प्रशासन का संकल्प आधा-अधूरा क्यों?

0 July 19, 2021

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को देश की सत्ता संभाले आठवां साल चल रहा हैं। बीते सात सालों में मोदी ने अपनी नेतृत्व क्षमता का लोहा पूरी दुनिया में मनवाया ह...

item-thumbnail

उग्रवाद की कोख में शिक्षा के दीप

0 July 5, 2021

उन्नीस सौ नब्बे के बाद अविभाजित बिहार के मध्य बिहार (अब दक्षिण बिहार) कभी उग्रवादी संगठनो के रहमोकरम पर था, जहां उग्रवादी संगठनो की अपनी सरकार चलती थी...

item-thumbnail

प्राकृतिक आक्सीजन केन्द्र

0 June 23, 2021

कोरोना महामारी ने प्रत्येक व्यक्ति, परिवार, सामाजिक संगठनों, सरकारों के साथ-साथ समूचे अन्तर्राष्ट्रीय जगत को कई नये अनुभव दिये हैं। हर व्यक्ति ने जीवन...

item-thumbnail

डिप्रेशन : व्यर्थ की निराशाओं से बचें, परिस्थितियों के अनुसार खुद को ढालना सीखें

0 May 26, 2021

विगत लगभग डेढ़ वर्षों में ग्लोबल पेन्डेमिक कोविड-19 के कारण जहां पूरी दुनिया में लाखों लोगों ने अपने जान गंवाएं हैं वहीं अपनों के जीवन और भविष्य की अन...

item-thumbnail

खाद्य पदार्थो में मिलावट का गोरखधंधा

0 January 13, 2021

दिसंबर के आरंभ में नकली मसाले की एक फैक्ट्री उत्तर प्रदेश के हाथरस में पकड़ी गई। असली मसालों की पैकिंग में नकली मसाला बेचने वाले खच्चर की लीद और भूसे ...

item-thumbnail

अनियोजित शहरीकरण एवं गांवों की उपेक्षा के खतरे

0 December 18, 2020

कोरोना की उत्तरकालीन व्यवस्थाओं पर चिन्तन करते हुए बढ़ते पर्यावरण एवं प्रकृति विनाश को नियंत्रित करना हमारी प्राथमिकता होनी चाहिए, इसके लिये बढ़ते शहर...

item-thumbnail

लव-जिहाद और भारत

0 December 1, 2020

लव जिहाद का मुद्दा चर्चा में बना ही रहता है क्योंकि यह किसी राज्य, क्षेत्र या देश का मामला नहीं है बल्कि यह एक विश्वव्यापी मुद्दा है। जहां पर भी मुस्ल...

item-thumbnail

उदासीनता से उमड़ी नई कोरोना एवं प्रदूषण लहर

0 November 4, 2020

कोरोनारूपी महामारी एवं महाप्रकोप से जुड़ी हर मुश्किल घड़ी का सामना हमने भले ही मुस्कुराते हुए किया, लेकिन जाता हुआ कोरोना अधिक रूला रहा है, अधिक दुर्ग...

item-thumbnail

विकृत भारतीय इतिहास का पुनर्लेखन हो

0 August 1, 2020

इतिहास किसी देश के लिए उतना ही महत्व रखता है जितना कि किसी देश के लिए उसका संविधान। भारत का संविधान कुशलता के साथ लिखा गया है लेकिन यही बात इसके इतिहा...

1 2 3 6