ब्रेकिंग न्यूज़ 

item-thumbnail

राहुलजी की पॉलिटिक्स और फि़ल्मी गोरखधंधा

0 October 7, 2020

बेटा: पिताजी। पिता: हाँ बेटा । बेटा: राहुलजी ने मोदी सरकार पर आरोप लगाया है कि उसने देशभर में कोविड-19 की महामारी की रोकथाम के लिए बिना सोचे-समझे देशभ...

item-thumbnail

यह ‘डे’ का तमाशा चीन पर चिंता विपक्ष की

0 September 22, 2020

बेटा: पिताजी। पिता: हाँ बेटा। बेटा: यह ‘डे’ क्या होता है? पिता: बड़ा अजीब सवाल कर रहा है तू। तेरे को यह भी पता नहीं कि डे क्या होता है। बेटा, डे दिन ह...

item-thumbnail

पालिटिक्स और चुनाव के कुछ अलग ही नज़ारे

0 August 27, 2020

बेटा: पिताजी। पिता: हाँ बेटा। बेटा: आजकल तो पिताजी राहुल गांधीजी मोदीजी व उनके मंत्रिमंडल पर रोज़ ही ताबड़तोड़ हमले कर रहे हैं। पिता: हमले का क्या मतल...

item-thumbnail

सूडो सेकुलर से सूडो हिन्दूवादी

0 March 9, 2018

चुनाव की महिमा अपरंपार है। नेताओं की सारी नेतागिरी धरी रह जाती है। वे जोरू के गुलाम की तरह जनता के गुलाम दिखने का नाटक करने लगते हैं। क्यों न हों? जैस...

item-thumbnail

जेएनयू का यथार्थ ”काम-रेड’’ कथा

0 February 26, 2016

अभी पुष्पा को कालेज आये चार ही दिन हुए थे कि उसकी मुलाकात एक क्रांतिकारी से हो गयी। लंबे कद का एक सांवला सा लौंडा…ब्रांडेड जीन्स पर फटा हुआ कुरत...

item-thumbnail

बुरा न मानो होली है

0 March 13, 2015

By मनोज समदरिया आज सुबह के अखबार में गर्दन घुसाये वह खबर ढूंढ रहा था जिसमें होरी की गारी हो। मेवे-मिश्री की खुशबू हो और गुलाल से तर कन्याओं की तस्वीरे...

item-thumbnail

संघर्ष का अचूक हथियार ‘किस ऑफ लव’

0 November 29, 2014

By अम्बा चरण वशिष्ठ आज तो मजा ही आ गया। जीवन में ऐसा सुनहरी मौका मिला जो बिरले भाग्यवानों को ही मिल पाता है। उनमें आज मैं और मेरा एक दोस्त भी शामिल हो...

1 2